कंप्यूटर की विशेषता – कंप्यूटर के विशेषताओं की पूरी जानकारी

जिस प्रकार से इंटरनेट की विशेषता और इसकी उपयोगिता बढ़ती जा रही है ठीक उसी प्रकार से कंप्यूटर का भी इस्तेमाल
अब हर एक फील्ड में किया जा रहा है। कंप्यूटर के वजह से ही आज बड़े-बड़े रिसर्च संभव हो पाए हैं और इतना ही नहीं
अनेकों प्रकार के कार्यों को आप कंप्यूटर के सहायता से कर बैठे कर सकते हो क्या आप जानते हो कि Computer Ki
Visheshta है? और आज कंप्यूटर की वजह से कौन-कौन से कार्यों को आसानी से किया जा सकता है। अगर आप यह
सब नहीं जानते हो तो आज हम अपने इस लेख के जरिए कंप्यूटर की मुख्य विशेषताओं के बारे में विस्तार पूर्वक पर
जानकारी प्रदान करने वाले हैं। 

अनुक्रम दिखाएँ

अगर आप कंप्यूटर की विशेषता को समझ लोगे तो आप आने वाले समय में कंप्यूटर का क्या भविष्य है? और कंप्यूटर की
क्या डिमांड होगी? इसको भी आसानी से समझ सकते हो। इसीलिए आज हमारे इस महत्वपूर्ण लेखकों आप अंतिम तक
जरूर पढ़ें क्योंकि आपको हमारे लेख में कंप्यूटर से जुड़ी हुई सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में आज पता
चलने वाला है और अगर आपने एक भी जानकारी मिस कर दी तो आपको हमारा यह लेख समझ में नहीं आएगा और
आप कंप्यूटर से संबंधित एक महत्वपूर्ण जानकारी को मिस कर दोगे।

कंप्यूटर क्या है

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है और कंप्यूटर को हिंदी में संगणक कहा जाता है। कंप्यूटर को गणना करने के लिए
जानता जाता है। कंप्यूटर कई सारे हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से मिलकर बनता है। कंप्यूटर को एक ऑपरेटर के द्वारा ही
चलाया जाता है। जब आप कंप्यूटर में कोई डाटा इनपुट करते हो तब कंप्यूटर उसे अपनी भाषा में समझता है और यह
जानकारी सीपीयू कंप्यूटर को भेजता है फिर कंप्यूटर हमारी भाषा में हमारे द्वारा दिए गए इनपुट का रिजल्ट दिखाता है।
आज की कंप्यूटर काफी ज्यादा एडवांस हो चुके हैं और अब के कंप्यूटर गणना करने के अलावा अनेकों प्रकार के कार्यों के
लिए भी उपयोग में लिए जाते हैं।

Computer Full Form In Hindi

Computer Full Form In Hindi

दोस्तों क्या आप कंप्यूटर के फुल फॉर्म के बारे में जानते हो। दोस्तों जब भी कंप्यूटर से संबंधित कहीं पर एग्जाम होता है
या फिर इंटरव्यू होता है सब कंप्यूटर की फुल फॉर्म के बारे में जरूर पूछा जाता है इसीलिए आपको कंप्यूटर की फुल फॉर्म
के बारे में जानना बेहद जरूरी है हमने यहां पर नीचे पॉइंट के माध्यम से आपको कंप्यूटर का फुल फॉर्म एक एक शब्द के
रूप में बताया है और आप नीचे दिए गए जानकारी को ध्यान से समझ सकते हो। 

C – Commonly
O – Operated
M – Machine
P – Particularly
U – Used In
T – Technical
E – Educational
R – Research 

कंप्यूटर की फुल फॉर्म को कुछ इस प्रकार से पढ़ेंगे Commonly Operated Machine Particularly Used In
Technical And Research।

इसे भी जाने

कंप्यूटर की विशेषता

Computer Ki Visheshta

कंप्यूटर की एक नहीं दो नहीं बल्कि अनेकों विशेषताएं हैं जिनके बारे में अगर एक लेख लिखा जाए तो भी कम पड़ सकता
है परंतु यहां पर हमने कंप्यूटर की कुछ प्रमुख विशेषताओं के बारे में विस्तार से बताया है जैसे कि स्पीड के साथ काम
करना, शुद्धता के साथ कार्य करना, कम समय में कार्य को पूरा करना, ऑटोमेटिक बिना रुके लगातार काम करना और
इतना ही नहीं सिर्फ एक ऑपरेटर के जरिए आप कंप्यूटर से 100 लोगों का काम अकेले करवा सकते हो।

चलिए अब हम कंप्यूटर की कुछ अन्य विशेषताओं को थोड़ा और भी ज्यादा विस्तार से समझते हैं जिसकी जानकारी नीचे हमने विस्तार से दी है और आप नीचे दी गई जानकारी को पढ़कर कंप्यूटर की अन्य विशेषताओं को आसानी से समझ सकते हो।

1.तीव्रता के साथ कार्य क्षमता

कंप्यूटर इतनी तेजी से कार्य करता है जितनी तेजी से कोई आम इंसान नहीं कर सकता है। कंप्यूटर अपने असीमित कार्यक्षमता के लिए काफी ज्यादा जाना जाता है। बिना थके कंप्यूटर लगातार काम करने की क्षमता रखता है और इसके कार्य करने की गति इतनी ज्यादा तीव्र होती है कि हम आपको क्या ही बताएं।

उदाहरण के रूप में अगर आपको कोई गणित का सवाल हल करने में 15 से 20 मिनट का समय लगता है तो वही कंप्यूटर को इसी गणित के सवाल को हल करने में मात्र एक से 2 सेकंड का समय लगेगा। मतलब की कंप्यूटर तेज गति के साथ काम करने के साथ-साथ हमारे समय को भी बचाता है और असीमित कार्य करने की क्षमता अपने अंदर समाहित रखता है।

2. एक्यूरेसी के साथ काम करने की क्षमता

हम सभी इंसानों को कोई ऐसा काम दे दिया जाए जिसमें गलती होने की कोई भी संभावना है ना हो या फिर हम यूं कहें कि उस काम में 1% भी गलती नहीं होनी चाहिए तो क्या यह संभव है। अगर कोई मानव इस प्रकार के काम करेगा तो 100% संभावना है कि उससे कोई ना कोई छोटी बड़ी गलती तो होगी ही।

मगर वही अगर हम कंप्यूटर की सहायता से कोई काम करते हैं और इसमें 1% की गलती नहीं चाहते हैं तो ऐसा कंप्यूटर के माध्यम से संभव है। कंप्यूटर 101% के एक्यूरेसी के साथ काम करता है और कंप्यूटर के द्वारा किए गए कामों में आप 1% की भी गलती नहीं निकाल पाएंगे और यह पूरे सटीकता से कार्य करने में सफल रहता है और यही इसकी मुख्य विशेषता भी है।

3. स्वचालित कार्य क्षमता

अगर एक बार कंप्यूटर में आप कोई आदेश दे देते हैं तो वह ऑटोमेटिक उस आदेश को पूरा करने से पहले नहीं रुकेगा और अगर हम उसी आदेश को बार-बार रिपीट करने का आदेश देंगे तो ठीक हमारे आदेश को कंप्यूटर उसी प्रकार से मानेगा जैसा हम चाहते हैं। कंप्यूटर  स्वचालित फिर हम यूं कहें कि ऑटोमेटिक कार्य करने की क्षमता रखता है।

4. स्टोरेज का भंडारण

अगर आप किसी भी प्रकार का ऑनलाइन काम करते हैं या फिर आपको ही प्रेजेंटेशन या डॉक्यूमेंट बनाते हैं तो ऐसे में भंडारण यानी कि स्टोरेज की समस्या सभी को रहती है। परंतु कंप्यूटर के अंदर अब इस समस्या को भी सॉल्व कर दिया गया है और अब कंप्यूटर के अंदर आपको एक अच्छा भंडारण यानी की स्टोरेज क्षमता प्रदान किया जा रहा है। 

5. वर्सेटाइल कार्य करने की विशेषताएं

कंप्यूटर कोई एक डायरेक्शन में काम नहीं करता है और ना ही कोई एक कार्य प्रणाली पर बार-बार कार्य करने की क्षमता रखता है। आप इसे अपने आवश्यकतानुसार जैसे चाहे वैसे कार्य करने के लिए कमांड दे सकते हैं और इसीलिए कंप्यूटर को आज के समय में वर्सेटाइल कंप्यूटर का नाम भी दिया गया है। अगर आप चाहे तो कंप्यूटर को स्वास्थ्य संबंधित क्षेत्र में उपयोग कर सकते हैं और वही अगर आप चाहे तो इसे शिक्षा संबंधित क्षेत्र में भी उपयोग करने के लिए कमांड दे सकते हैं। इसीलिए कंप्यूटर को एक वर्सेटाइल लर्निंग और कमांडिंग मशीन भी कहा जाता है।

6. मल्टीटास्किंग काम करने की विशेषता

अगर आप कंप्यूटर में कोई एक काम कर रहे हैं और तुरंत ही आपको कंप्यूटर पर दूसरा टास्क भी कंप्लीट करना है तो ऐसे में कंप्यूटर आपके लिए काफी ज्यादा उपयोगी हो सकता है। पहले के समय में कंप्यूटर केवल एक ही कार्य करने की क्षमता रखता था परंतु आज कंप्यूटर के टेक्नोलॉजी काफी ज्यादा एडवांस हो चुकी है और इसीलिए आप कंप्यूटर में एक साथ कई सारे मल्टीटास्किंग काम को कर सकते हैं और उसे मल्टीटास्किंग कमांड भी रह सकते हैं और हम आपको बता दें कि कंप्यूटर आपके द्वारा मल्टीटास्किंग काम को बिना गलती किए पूरा करने की क्षमता रखता है।

7. स्मरण शक्ति के भंडारण की विशेषता

अगर एक समय के लिए मनुष्य को कोई चीज याद करने के लिए कहा गया हो उसे कहा जाए कि आपको जीवन भर इस चीज को नहीं बोलना है तो शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति ऐसा कर पाएगा। मगर वही कंप्यूटर की बात की जाए तो कंप्यूटर को इसमें महारत हासिल है और हम आपको बता दें कि कंप्यूटर असीमित स्मरण शक्ति को भी रखने की क्षमता रखता है।

आप कंप्यूटर में कोई भी जानकारी फिर कर दीजिए या फिर उसे एग्जैक्ट टाइम पर उस जानकारी को दिखाने की अनुमति दी थी आपको ठीक आपके द्वारा कमांड पर ही वह विश्वास करेगा और आपको कभी भी इस क्षेत्र में भी कंप्यूटर कभी भी निराश नहीं करेगा।

8. स्वास्थ्य के क्षेत्र में उपयोगी

आपने देखा होगा कि अल्ट्रासाउंड से लेकर सफल ऑपरेशन के लिए भी आजकल कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है और आप खुद सोचिए कि अगर कंप्यूटर कोई त्रुटि स्वास्थ्य संबंधित जांचों में या फिर क्रियाकलापों में करता तो क्या इसका इस्तेमाल स्वास्थ्य संबंधित क्षेत्रों में किया जाता और क्या इसका इस्तेमाल संभव था। बिल्कुल भी नहीं मेरे प्यारे दोस्तों आज के समय में कंप्यूटर स्वास्थ्य क्षेत्र में भी पूरे  एक्यूरेसी और असीमित बिना थके कार्य करने की क्षमता रखता है। इसीलिए आज के समय में स्वास्थ्य संबंधित क्षेत्र में कंप्यूटर का महत्वपूर्ण योगदान रहा है और इसे स्वीकार भी किया जा रहा है।

9. शिक्षा के क्षेत्र में सहायक

महामारी के समय से आज कंप्यूटर शिक्षा के क्षेत्र में पहले के मुकाबले कई गुना ज्यादा इस्तेमाल किए जाने लगा है। आजकल आधुनिक शिक्षा प्रणाली को बढ़ावा प्रदान करने के लिए कंप्यूटर को बड़े-बड़े यूनिवर्सिटी और कॉलेज में जगह प्रदान की जा रही है।

हम आपको बता दें कि स्टूडेंट को अच्छे तरीके से पढ़ाने के लिए और सही जानकारी को समझाने में कंप्यूटर शिक्षा के क्षेत्र में विशेष रूप से काम कर रहा है और आज कंप्यूटर को शिक्षा के क्षेत्र में स्वीकारा गया है और कंप्यूटर को आगे चलकर लगभग हर एक छोटे बड़े कॉलेज एवं यूनिवर्सिटी में एवं हर एक जगह पर जो शिक्षा संस्थान मौजूद है वहां पर इसका उपयोग अनिवार्य कर दिया जाएगा।

10. गोपनीयता के साथ काम करने की कुशलता

मेरे प्यारे दोस्तों जहां कंप्यूटर त्रुटि रहित और तीव्रता के साथ काम करने की क्षमता रखता है वही कंप्यूटर के अंदर गोपनीयता पूर्ण कार्य करने की भी क्षमता मौजूद है। कंप्यूटर के अंतर्गत कितनी ज्यादा हाई सिक्योरिटी की चीजें आज के समय में डेवलप हो चुकी है कि कंप्यूटर से कोई भी आसानी से सिगरेट चीज को निकाला नहीं जा सकता है और अगर आप चाहे तो एक्स्ट्रा सिक्योरिटी भी कंप्यूटर में खुद लगा सकते हैं और इसीलिए कंप्यूटर को एक गोपनीयता के साथ कार्य करने की क्षमता का भी एक विशेष योग्यता प्रदान किया गया है।

11.त्वरित कार्य करने की विशेषता

कंप्यूटर दिए गए निर्देशों पर तुरंत कार्य करने एवं उस पर सही निर्णय लेने की क्षमता रखता है। उदाहरण के रूप में इसे समझते है अगर आप कंप्यूटर में कोई डॉक्यूमेंट सेव करने के लिए कमांड देते हैं तो तुरंत तुरंत ही कंप्यूटर आपके द्वारा दिए गए निर्णय को समझ आता है और इस पर तुरंत एक्शन ले लेता है। मतलब कि इस को समझने के लिए ज्यादा समय नहीं देना होता और यह सेकंड में ही अपना निर्णय ले लेता है और उसी हिसाब से दिए गए कमांड को पूरा कर देता है।

12. इंटरनेट से जोड़ने और कार्य करने की कुशलता

 जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि एक समय ऐसा हुआ करता था जब कंप्यूटर में इंटरनेट की कनेक्टिविटी संभव नहीं थी परंतु धीरे-धीरे कंप्यूटर के तकनीक में विकास होता गया और आगे चलकर जब इंटरनेट प्रचलन में आने लगा तो कंप्यूटर में भी इंटरनेट को एक्सेस करने की सुविधाएं प्रदान की जाने लगी। अब आप वर्तमान समय में कंप्यूटर के साथ इंटरनेट को आसानी से हाई स्पीड कनेक्टिविटी के साथ जुड़ सकते हैं और अपने सभी प्रकार के ऑनलाइन कामों को भी कंप्यूटर की टच और इंटरनेट की सहायता से कर सकते हैं।

आज के समय में कंप्यूटर की सहायता से इंटरनेट पर हाई स्पीड के साथ और सही सटीकता के साथ किया जा रहा है और हम आपको बता दें कि सभी सरकारी दफ्तरों में भी कंप्यूटर की इसी विशेषता के कारण कंप्यूटर को शामिल किया जा रहा है। 

13. रिसर्च और डेवलपमेंट में उपयोगी

आज के समय में कंप्यूटर के माध्यम से किसी भी चीज का रिसर्च या फिर हम यूं कहें कि किसी भी चीज की डेवलपमेंट की जा रही है। आजकल कंप्यूटर रिसर्च और डेवलपमेंट के क्षेत्र में काम करने की विशेषताओं के लिए भी जाना जा रहा है। कंप्यूटर की सहायता से बड़े-बड़े सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट और बड़ी-बड़ी तकनीक का रिचार्ज कम समय में और सटीक तरीके से किया जा रहा है जो कि अपने आप में नए चीजों को विकास प्रदान करने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। आज कंप्यूटर की वजह से ही कोरोनावायरस की वैक्सीन का रिसर्च और अन्य डेवलपमेंट के कार्य समय पर किए जा रहे हैं।

14. ऑनलाइन पैसा कमाने में उपयोगी

मेरे प्यारे दोस्तों आज के समय में हम जैसे ब्लॉगर और यूट्यूब पर काम करने वाले क्रिएटर कंप्यूटर के सहायता से ही पैसे घर बैठे कमा रहे हैं। कंप्यूटर की इस विशेषता के बारे में कोई भी बात नहीं करता परंतु आज जो भी व्यक्ति घर बैठे पैसे कमा रहा है वह सभी कंप्यूटर के द्वारा कार्य करने की वजह से ही संभव हो सका है। आज कंप्यूटर को आप पैसे कमाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं और अब हम और आप कंप्यूटर में काम करके पैसे कमाने की विशेषताओं को भी इस्तेमाल करने की क्षमता रखते हैं। इसीलिए हम कंप्यूटर को पैसे कमाने की विशेषता का भी एक दर्जा दे सकते हैं।

इसे भी पढ़े

कंप्यूटर के फायदे 

computer ke fayde

चलिए अब हम आप सभी लोगों को कंप्यूटर के कुछ प्रमुख पदों के बारे में भी जानकारी दे देते हैं और इसके बारे में हमने नीचे विस्तार पूर्वक से पॉइंट के जरिए इस जानकारी को समझाया है और आप कंप्यूटर के फायदे एक बार जरूर पढ़े। 

  • आप अपने कंप्यूटर की सहायता से एक साथ अनेकों प्रकार के कार्यों को आसानी से एक ही समय पर कर सकते हो।
  • आज कंप्यूटर की सहायता से घर बैठे किसी भी योजना के लिए, कॉलेज या यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने के लिए या फिर नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • कंप्यूटर बिना गलती के किसी भी कार्य को पूरा करता है।
  • अगर आप कंप्यूटर को एक ही फॉर्मेट पर काम करने का रूल समझा देते हो और उसे काम पर लगा देते हो तो जब तक काम खत्म नहीं हो जाएगा कंप्यूटर आपकी फॉर्मेट के अनुसार ही लगातार बिना रुके सटीकता से कार्य करता रहेगा।
  • कंप्यूटर पर कार्य करके हम समय की बचत कर सकते हैं मतलब की कोई काम अगर इंसान आधे घंटे में करता है तो कंप्यूटर मात्र उसी काम को 10 से 5 मिनट के अंदर अंदर ही निपटा सकता है।
  • आज कंप्यूटर की वजह से घर-घर में शिक्षा का विकास हुआ है और ग्रामीण क्षेत्रों में भी कंप्यूटर के जरिए लोग ऑनलाइन शिक्षा को घर बैठे पढ़ रहे हैं। 

कंप्यूटर के नुकसान 

computer ke nuksan

जिस प्रकार से कंप्यूटर के अनेकों फायदे हो सकते हैं ठीक उसी प्रकार के कंप्यूटर के अपने कुछ नुकसान भी है और इसकी जानकारी हमने नीचे पॉइंट के माध्यम से आपको समझाई हुई है और आप एक बार कंप्यूटर के नुकसान के बारे में भी अवश्य पढ़ें।

  • कंप्यूटर में स्टोरेज अत्यधिक होती है और इसीलिए हम कंप्यूटर में अपने सभी आवश्यक दस्तावेजों को सुरक्षित रखते हैं परंतु आज इंटरनेट पर हैकिंग की समस्या काफी बढ़ गई है और हो सकता है कि आपके कंप्यूटर को हैक करके आपके डाटा का गलत उपयोग किया जाए या फिर आप को ब्लैकमेल आदि किया जाए।
  • ज्यादा देर तक कंप्यूटर पर कार्य करने से आंखों की समस्या हो सकती है।
  • कंप्यूटर ऑपरेटर को सबसे ज्यादा स्पाइन की प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता है।
  • कंप्यूटर पर काम करने वाले लोग कभी भी फिजिकल कार्य नहीं कर पाते जिसकी वजह से उन्हें फिजिकल नॉलेज नहीं होती है और साथ ही में उनका शरीर भी फिजिकल वर्क करने के लिए साथ नहीं देता है।
  • जहां पहले के समय में किसी कार्य को करने के लिए 10 लोगों की आवश्यकता होती थी वही कंप्यूटर के आ जाने से सिर्फ 1 लोग ही कंप्यूटर पर ऑपरेटिंग का काम करके 10 लोगों का या फिर 100 लोगों का भी काम कर सकते हैं और इसी वजह से बेरोजगारी भी बढ़ रही है।
  • आजकल कंप्यूटर का उपयोग शिक्षा के उद्देश्य से कम बल्कि इंटरटेनमेंट के उद्देश्य से ज्यादा किया जा रहा है और इसकी वजह से स्टूडेंट अपने लक्ष्यों से भटक रहे हैं।
  • कंप्यूटर पर पढ़ाई करने वाले लोगों को सोचने समझने की क्षमता की कमी हो सकती है क्योंकि जरा तक कंप्यूटर ही सोचने का कार्य कर देता है परंतु जो लोग ऑफलाइन वर्क करते हैं और किसी भी कार्य को सोच समझकर करते हैं अक्सर उन लोगों की बुद्धिमता भी विकसित होती है।
  • अगर आप कंप्यूटर पर किसी भी कार्य को करने लगते हो तो आपको कई अन्य नई नई चीजें दिखाई देने लगती है और आप उस चीजों के पीछे भागने लगते हो जिससे आपका समय बर्बाद हो जाता है और आप अपने मुख्य उद्देश्य से ही भटकने लगते हो।

FAQ About Computer Ki Visheshta

Q: कंप्यूटर की विशेषता क्या है?

ANS कंप्यूटर एक सेकंड में पूरे एक्यूरेसी के साथ बिना गलती की है कार्य करने की क्षमता रखता है और भी कई सारे कंप्यूटर की विशेषताएं हैं। जिसके बारे में इस आर्टिकल में विस्तार से बताया गया है।

Q: कंप्यूटर सटीकता के साथ लगातार कार्य करता है कंप्यूटर का यह गुण क्या कहलाता है?

ANS कंप्यूटर की इस विशेषता को आप एक्यूरेसी के साथ काम करने वाला गुण कह सकते हैं।

Q: कंप्यूटर के दोष क्या है?

ANS फिजिकली लोगों के साथ कांटेक्ट खत्म हो जाना और केवल सोशल मीडिया और इंटरनेट पर हीर ज्यादा से ज्यादा समय बिताना ही कंप्यूटर का दोष है।

Q: कम्प्यूटर की बुद्धिमता स्तर (IQ) कितना होता हैं?

ANS 0% होता है क्योंकि इसके अंदर खुद ब खुद सोचने एवं समझने की क्षमता नहीं होती है। कंप्यूटर केवल कमांड देने पर और इस पर काम करने पर ही काम करता है और उसी आधार पर इसका आई क्यू लेवल काम करता है।

Q: कंप्यूटर शब्द कौन सी भाषा से लिया गया है?

ANS कम्प्यूटर’ शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के ‘COMPUTARE’ शब्द से हुई है। परन्तु कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि ‘कम्प्यूटर’ शब्द की उत्पत्ति ‘COMPUTER’ शब्द से हुई है।

निष्कर्ष

Computer Ki Visheshta के ऊपर आधारित आज के इस लेख में हमने आप सभी लोगों को इसकी अनगिनत विशेषताओं के बारे में जानकारी प्रदान की है और हमें उम्मीद है कि आज हमने जो भी जानकारियां कंप्यूटर की विशेषता पर आपको बताई है वह सभी आपके लिए यूज़फुल और हेल्पफुल रही होगी।

 अगर कंप्यूटर की विशेषता के ऊपर आधारित आज काया लेख आपको अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप के माध्यम से आप जैसे ही लोगों को जानकारी मिल सके। अगर आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। आर्टिकल को शुरू से अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद और आपका दिन शुभ हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.