Mouse in Hindi – माउस के प्रकार 

5/5 - (1 vote)

Mouse in hindi : नमस्कार दोस्तों, हम अक्सर कंप्यूटर और लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं। कंप्यूटर और लैपटॉप के साथ कई सारे डिवाइस होते हैं जिसे हम अलग से जोड़ सकते है। इन सभी डिवाइस की सूची में जैसे कीबोर्ड, माउस इतियादी शामिल होते हैं। 

कंप्यूटर के इन सभी डिवाइस के बारे में हम इस लेख के माध्यम से जानकारी लेंगे इसके साथ ही आपको बतायेंगे की माउस क्या होता हैं और यह कंप्यूटर में कैसे काम करता हैं। चलिए जानते हैं इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी ताकि आपको इस लेख के माध्यम से मदद मिल सके। 

Mouse क्या होता हैं ? 

माउस कंप्यूटर में लगने वाला यह सबसे जरुरी भाग हैं। कंप्यूटर में यह सबसे महत्पूर्ण भाग हैं। सामान्य भाषा में समझे तो यह एक पोइंटिंग डिवाइस हैं जिसे आसानी से कंप्यूटर और लैपटॉप से जोड़ा जा सकता हैं। 

यह एक हार्डवेयर हैं और कंप्यूटर की भाषा में इसे एक इनपुट डिवाइस भी कहा जा सकता हैं। इस डिवाइस की सहायता से आप अपने कंप्यूटर में किसी भी फाइल को Drag, Drop & copy , paste कर सकते हैं। एक अन्य भाषा में माउस को पॉइंटर भी कहा जाता हैं। 

माउस की खोज किसने की ? 

माउस की खोज किसने की और माउस का अविष्कार किसने किया इसके बारे में भी आप जान लीजिये। अन्य शब्दों में X-Y Pointer के नाम से जाना जाने वाला यह डिवाइस हैं जिसकी खोज साल 1963 में Douglas Engelbart ने की थी। इस माउस को Display system के साथ इस्तेमाल किया जाता हैं। 

यह एक External device होता हैं और इसका इस्तेमाल कंप्यूटर और लैपटॉप के साथ इस्तेमाल किया जा सकता हैं। 

Mouse की आवश्यकता क्यों होती हैं ? 

हम इस डिवाइस का इस्तेमाल क्यों करते हैं इसके बारे में भी आपको जानने की आवश्यकता हैं। माउस एक ऐसा डिवाइस हैं जो कंप्यूटर के साथ आवश्यक माना गया हैं। इसके बिना कंप्यूटर में किसी भी फाइल को ओपन करना या उसका इस्तेमाल करना मुश्किल हैं। कंप्यूटर में इसके इस्तेमाल को काफी अहम माना जाता हैं। 

Mouse के काम ? 

वैसे तो दिखने में यह एक साधारण माना जाता हैं। परन्तु इसका इस्तेमाल भी काफी ख़ास हैं। माउस के यह कुछ ख़ास काम हैं जिसकी वजह से माउस को इतनी तवज्जों दी जाती हैं। माउस के बिना नहीं होने वाले वे जरुरी काम जो कंप्यूटर में बेहद जरुरी हैं। 

  • Computer में किसी भी फाइल को कॉपी करने या उसे ड्राप करने के लिए हमे माउस की आवश्यकता होती हैं। कंप्यूटर एक Pointing डिवाइस हैं जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर में काफी कॉमन रूप में किया जाता हैं।
  • किसी भी प्रोग्राम को Execute करने के लिए भी हमे माउस की ही आवश्यकता होती हैं। बिना माउस के इसी भी फाइल और प्रोग्राम को एक्सीक्यूट नहीं किया जा सकता हैं। कर्सर की सहायता से किसी भी फाइल को मूव किया जा सकता हैं। 
  • किसी भी शब्द, और फाइल को सेलेक्ट करने के लिए भी माउस का ही इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा किसी भी शब्द और फाइल को हाईलाइट करने के लिए भी हमे माउस की आवश्यकता होती हैं। 
  • किसी भी फाइल को एक जगह से दुसरे जगह पर Drag & Drop करने के लिए भी माउस की आवश्यकता होती हैं। इसके अलावा हम माउस की सहायता से किसी भी फाइल और शब्द और फोल्डर को hover कर सकते हैं।
  • माउस की सहायता से हम फाइल को ऊपर से नीचे और नीचे से ऊपर तक Scroll कर सकते हैं। इन सब में माउस की ही आवश्यकता होती हैं। 

माउस के प्रकार 

सामान्य भाषा में हम इसे माउस की संज्ञा देते हैं। अक्सर दिखने में एक समान माउस कई प्रकार के होते है। इनके भी कई अलग – अलग प्रकार हैं। माउस को कई अलग – अलग हिस्सों में बांटा गया हैं। इसकी डिजाईन और कनेक्शन की विधि के अनुसार इसे कई अलग हिस्सों में बंता गया हैं। चलिए जानते हैं माउस के अलग – अलग प्रकारों के बारे में। 

Serial mouse 

माउस की श्रेणी में हम सबसे पहले इस माउस के प्रकार के बारे में जानते हैं। इस प्रकार के माउस वर्तमान में काफी कम देखने को मिलते हैं। अगर आप सरकारी कार्यालयों में जाए तो इस प्रकार के माउस को देख सकते है। हालांकि इस प्रकार के माउस वर्तमान में चलन में नही है। 

इस प्रकार के माउस में एक serial constructor लगा होता हैं जिसकी सहायता से उस माउस को कंप्यूटर के साथ जोड़ा जा सकता हैं। एक अन्य भाषा में इस प्रकार के माउस को Cold-pluggable के नाम से भी जाना जाता हैं। 

PS2 Mouse 

यह एक और अलग प्रकार के माउस होते हैं जिन्हें कंप्यूटर के साथ जोड़ा जा सकता हैं। यह वायर वाले माउस होते हैं जिन्हें कंप्यूटर से जोड़ने के लिए मुख्य रूप से माउस में एक और PS2 प्रकार की पिन की आवश्यकता होती हैं। 

यह माउस Serial mouse uppar version हैं जिसे कंप्यूटर में इस्तेमाल किया जाता हैं। इस माउस को कंप्यूटर से जोड़ने के लिए माउस की पिन में 6 प्रकार की पिन लगी होती हैं। इस माउस को Cold – pluggable कहा जाता हैं। 

USB Mouse 

इस माउस और PS2 माउस में कोई विशेष प्रकार का अंतर नही हैं। इस माउस को कंप्यूटर से जोड़ने के लिए हमे एक PS2 केबल की जगह USB की आवश्यकता होती हैं। इस प्रकार के माउस Cordless or Wireless दोनों प्रकार के होते हैं। इस प्रकार के माउस को Hot pluggable माउस कहा जाता हैं। इस प्रकार के माउस को आप कंप्यूटर की रनिंग स्तिथि में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Wireless mouse 

ज़माना बदल गया हैं। आज वर्तमान में माउस की अलग – अलग श्रेणी आ गई हैं। आज कल ऐसे माउस आते हैं जो बिना वायर के भी चल जाते हैं। ऐसे ही माउस की श्रेणी में वायरलेस माउस भी आ गये हैं जिसने कंप्यूटर और माउस के बीच में से वायर को पूरी तरह से ख़त्म कर दिया हैं। 

इस प्रकार के माउस को USB के साथ जोड़ा जा सकता हैं। इस माउस को सबसे ज्यादा सेफ और सुरक्षित माना जाता हैं। इस माउस को हम अक्सर आज के जमाने में इस्तेमाल करते हैं। इस प्रकार के माउस को USB सहायता से जोड़ा जा सकता हैं। 

Mouse Structure 

एक माउस किस प्रकार का होता हैं और यह कैसे दीखता हैं इसके बारे में और इसके Structure के बारे में भी आपको जान लेना चाहिए। ताकि आप ऊपर बताये गये माउस के प्रकार की पहचान आसानी से कर सके। एक माउस में यह सभी फीचर होते हैं जो इस प्रकार हैं – 

  • Left button – माउस में दो बटन होते हैं जिसमे से एक left होता हैं। इस बटन का काम होता हैं किसी भी फाइल और फील्डर पर क्लिक करना होता हैं तो हम इस बटन का इस्तेमाल करते हैं। इस बटन को  Right button के साथ इस्तेमाल नही कर सकते हैं । 
  • Right button – माउस में एक और बटन होता हैं जिसे हम Right button कहते हैं। यह भी माउस का एक सबसे जरुरी और महत्वपूर्ण बटन होता हैं। इस माउस के बटन का इस्तेमाल किसी भी फाइल की मेनू लिस्ट खोलने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। इसकी सबसे खास बात यह है की हम Left और Right दोनो बटन को एक साथ इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  • Wheel Button – इन दोनों बटन के बीच में एक बटन और होता हैं जिसे हम Wheel button के नाम से जानते हैं। इस बटन का इस्तेमाल किसी फाइल और फोल्डर को स्क्रॉल करने के लिए काम आता है। 

इस लेख में आपको माउस के बारे में कुछ सामान्य जानकारी बताई गई हैं। इस लेख में को पढने के बाद आपको इसकी जानकारी मिल गई होगी। 

निष्कर्ष

इस लेख में आपको Mouse in hindi के बारे में बताया गया हैं। उम्मीद करते हैं आपको यह लेख पसंद आया होगा।  अगर आज का हमारा यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा करना ना भूले। इसके अतिरिक्त अगर आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल है या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। शुरू से अंत तक आर्टिकल पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद और आपका समय शुभ हो।

Faq About Mouse in hindi

Q: माउस क्या हैं ? 

Ans: माउस एक ऐसा डिवाइस हैं जिसे कंप्यूटर के साथ अतिरिक्त रूप में जोड़ सकते हैं।

Q: माउस कहा काम आता हैं ? 

Ans: यह भी कंप्यूटर के साथ ही काम आता हैं।

Q: माउस में कितने बटन होते है? 

Ans: माउस में मुख्य रूप से 3 बटन होते हैं जिसमे Left, right और scroll।

Q: माउस की सबसे बड़ी खासियत क्या हैं ? 

Ans: माउस एक इनपुट डिवाइस होता हैं जिसे आसानी से किसी भी कंप्यूटर और लैपटॉप के साथ जोड़ा जा सकता हैं

Share on:

मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं?, आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। धन्यवाद Gmail ID - [email protected]

Leave a Comment