बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र क्या है और इसे कैसे ऑनलाइन बनवाएं।

Bihar lpc certificate kya hai : जैसा कि हम सभी लोग भलीभांति से जानते हैं कि आज के समय में सभी प्रकार के कार्य डिजिटल रूप में किए जा रहे हैं और देश की प्रत्येक राज्य सरकारें भी डिजिटलीकरण को बढ़ावा भी प्रदान कर रही है।

बिहार राज्य सरकार में भी आप सभी प्रकार की योजनाओं और आवश्यक कार्यों से संबंधित आवेदन या फिर अन्य प्रोसीजर ऑनलाइन कर दिए गए हैं। अब बिहार राज्य सरकार ने अपने राज्य में लोगों की सुविधा हेतु ऑनलाइन भूमि स्वामित्व सर्टिफिकेट का आवेदन लेना शुरू कर दिया है।

आज के इस लेख में हम आप सभी लोगों को बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र क्या है ( Bihar lpc certificate kya hai ) ? और बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के लिए कैसे आवेदन करें ( Bihar lpc certificate ke liye online aavedan) ?, इस विषय पर विस्तार से जानकारी प्रदान करने वाले हैं।


बिहार भूमि स्वामित्व सर्टिफिकेट क्या है ? ( About Bihar lpc certificate in Hindi)


Bihar lpc certificate ke bare mein Puri jankari: दोस्तों जैसा कि हम भली भांति से जानते हैं, कि आज के समय में न्यायालयों में सबसे ज्यादा मामले जमीनी विवाद से संबंधित होते हैं

पहले के समय में जब सारी सुविधाएं नहीं थी और सारा डाटा डिजिटल तरीके से सुरक्षित नहीं था, तब जमीनी संबंधित सारे विवरण कब जाती होते थे या फिर सिर्फ मुंह जुबानी याद रहते थे कि कौन सी जमीन कितनी है और किस-किस की है।

यही सबसे बड़ा कारण है, कि आज के समय में जमीनी विवाद खत्म नहीं हो रहा क्योंकि अभी भी जमीनी संबंधित सारा डाटा डिजिटल तरीके से सुरक्षित नहीं है और कई कई राज्यों में तो डिजिटल कार्य अब शुरू किए गए हैं। इसी बीच बिहार राज्य सरकार ने अपने प्रदेश में बिहार भूमि स्वामित्व सर्टिफिकेट डिजिटल रूप में जारी करने का आदेश जारी कर दिया है।

अब सभी प्रकार के जमीनी विवरण जैसे कि , किसी भी व्यक्ति की कितनी जमीन है ?, उस जमीन पर किस किस व्यक्ति का अधिकार है ?, एक जमीन के कितने मालिक हैं और कितना कितना हिस्सा उन मालिकों का उस जमीन पर है ?, एक व्यक्ति के पास कुल कितनी जमीन है और कहां-कहां पर मौजूद है ?।

मतलब किस जमीनी संबंधित सारा विवरण इस सर्टिफिकेट में जमीन के ओनर को डिजिटल रूप में जारी किया जाएगा। भूमि स्वामित्व सर्टिफिकेट जारी हो जाने के पश्चात सरकार को और जमीन के मालिक को जमीनी संबंधित सारा विवरण एक स्थान पर आसानी से मिल जाएगा और फिर आप या सरकार आवश्यकता पड़ने पर इसका इस्तेमाल कर सके।

एलपीसी का फुल फॉर्म क्या है ? ( Full form of lpc in Hindi)

दोस्तों हम कब से आपके एलपीसी एलपीसी करके जानकारी को दे रहे हैं और आप सोच रहे होंगे कि आखिर यह एलपीसी का फुल फॉर्म क्या होता है (lpc ka ful form kya hota hai) ?, तो दोस्तों एलपीसी को हिंदी में “भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र” कह सकते हैं और इसे इंग्लिश में आप सभी लैंड पजेशन सर्टिफिकेट (land possession certificate) होता है।

एलपीसी सर्टिफिकेट की आवश्यकता क्यों पड़ती है ? (Lpc certificate ki jarurat kyon)


दोस्तों इतनी जानकारी देने के पश्चात भी कई लोगों के मन में शंका होगी, कि आखिर एलपीसी सर्टिफिकेट यानी कि भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र की आवश्यकता क्यों है (lpc certificate ki jarurat kyon) और एलपीसी सर्टिफिकेट को डाउनलोड क्यों करें ( lpc certificate download kyon Karen) ?,तो दोस्तों इस विषय पर नीचे जानकारी को देखें।

  • सरकारी या फिर बैंक से लोन लेने में एलपीसी सर्टिफिकेट की आवश्यकता पड़ती है।

  • किसी भी चीज में सब्सिडी पाने या फिर जमीनी सब्सिडी संबंधित लाभ प्राप्त करने के लिए आपको विश की आवश्यकता पड़ेगी।

  • भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के जरिए हम अपने जमीन पर मालिकाना हक जता सकते हैं।

  • भूमि सर्टिफिकेट के जरिए जमीनी विवाद से संबंधित समस्याओं को सॉल्व किया जा सकता है।

  • किसान भाई बहनों को कृषि के लिए लोन लेने के दौरान भी इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ेगी।

  • अपनी जमीन को बेचने के लिए भी आपको इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ सकती है।

  • सभी प्रकार की सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए उस में आवेदन करने के दौरान अब आवेदकों को एलपीसी सर्टिफिकेट की आवश्यकता होगी।

    ये भी जानेBihar Land Registry 2020 In Hindi- बिहार जमीन की रजिस्ट्री ऑनलाइन कैसे कराए पूरी जानकारी?

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने हेतु महत्वपूर्ण बातें ? (Lpc praman Patra ke liye jaruri baat)

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने से पहले आपको कुछ महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान देना होगा और तभी आगे आपको अपना आवेदन इसमें देना होगा और तब जाकर आपका भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनने का प्रोसेस प्रारंभ होगा। आइए जानते हैं, भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने के लिए क्या चाहिए होगा (Bhumi swamitva praman Patra hetu important thi) ? ।

  • एलपीसी सर्टिफिकेट बनवाने के लिए आपको सबसे पहले अपने लगान रसीद के बारे में जानकारी को चेक करना होगा। अगर आपने अपने लगान की राशि भाई नहीं है, तो आप उसे तुरंत भरे और रसीद में बकाया राशि अपडेट होने के पश्चात ही आप भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन करें।

  • अब आप से यहां पर जमीन की जानकारी से संबंधित हल्का पूछा जाएगा और जमीन किस पंचायत के अंतर्गत आती है, उसकी जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।

  • अगर आपने अपने जमीन का दाखिल खारिज नहीं बनवाया है, तो आप सर्वप्रथम अपने जमीन का दाखिल खारिज यानि की म्यूटेशन बनवा ले और तभी जाकर भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र में अपना आवेदन दें।

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के लिए आवश्यक दस्तावेज ? (Required document for lcp in Hindi)

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी और उसकी जानकारी इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है।

  • जिला का नाम

  • अंचल का नाम

  • हल्का यानी पंचायत का नाम

  • खाता का नाम

  • खसरा

  • थाना नंबर

  • घोषणा प्रमाण पत्र

  • स्थाई मोबाइल नंबर

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करें ? ( Lpc ke liye kaise aavedan mein)


दोस्तों भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र बनवाने के लिए और इसे डाउनलोड करने के लिए नीचे एक ही प्रक्रिया समान है और आपने फॉलो करके भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के लिए आवेदन दे सकते हैं और उसे डाउनलोड कर सकते हैं।

Step .1 सर्वप्रथम आपको बिहार राज्य की राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की आधिकारिक वेबसाइट http://biharbhumi.bihar.gov.in/Biharbhumi/ पर जाना होगा।

Step .2 अधिकारी वेबसाइट के होम पेज पर आपको “दाखिल खारिज आवेदन” नामक एक विकल्प दिखाई देगा और आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।

बिहार भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करें ? ( Lpc ke liye kaise aavedan mein)



Step .3 अब इतनी प्रक्रिया को पूरा करने के पश्चात आपको यहां पर वेबसाइट में लॉग इन करने के लिए कहा जाएगा और आप यूजरनेम और पासवर्ड के जरिए यहां पर लागू कर सकते हैं।

Step .4 अगर आप का आईडी पासवर्ड नहीं आता आप यहां पर अपना आईडी पासवर्ड बना सकते हैं और फिर वेबसाइट में लॉगिन कर सकते हैं।

Step .5 आधिकारिक वेबसाइट में लॉगिन करने के पश्चात आपको यहां पर “डिस्ट्रिक्ट एंड ब्लॉक” नामक एक विकल्प दिखाई देगा और आपको इसी पर क्लिक करना होगा।


Step .6 अब इतना करने के बाद यहां पर आपको “अप्लाई फॉर न्यू एलपीसी” नामक एक विकल्प दिखाई देगा और आपको अब इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।

Step .7 अब आपको यहां पर अपना “हल्का” सेलेक्ट करना है और इसके बाद अब को अपना “मौजा” चुनना है।

Step.8 अब आपको यहां पर खाता, खसरा, रेयत के नाम से अपने जमीन का विवरण सर्च करना है और अपनी जमीन को सेलेक्ट करना है।

Step .9 अगर आपने अपने लगान का भुगतान कर दिया होगा, तो आपको एलपीसी हेतु फॉर्म भरने के लिए कहा जाएगा और फॉर्म को भरने के पश्चात आप अपने एलपीसी को डाउनलोड भी कर सकते हैं।

निष्कर्ष :-

बिहार राज्य सरकार ने जमीनी विवाद को कम करने और जमीनी संबंधित सभी दस्तावेजों को एक स्थान पर डिजिटल रूप प्रदान करने के लिए एलपीसी नामक सुविधा का विस्तार किया है। आज के इस लेख में हमने आप सभी लोगों को एलपीसी क्या है (lpc kya hai) ? और एलपीसी कैसे डाउनलोड करें (lpc kaise download Karen) ?, इस विषय पर विस्तार से जानकारी दी है।यदि आपको जानकारी पसंद आई हो तो आप ही से अपने मित्र जन और परिजन के साथ अवश्य साझा करें। लेख से संबंधित यदि आपके कोई सवाल या सुझाव है, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बताएं।

बिहार एलपीसी ऑनलाइन से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न और उनके उत्तर :-

  1. प्रश्न : बिहार एलपीसी में आवेदन करने की प्रक्रिया कब से प्रारंभ हो जाएगी ?

    उत्तर :- 28 अगस्त वर्ष 2021 से प्रारंभ हो जाएगी।

  2. प्रश्न : बिहार एलपीसी के लिए कहां पर जाकर आवेदन करना होगा ?

    उत्तर :- बिहार एलपीसी के लिए बिहार राज्य की भूमि राजस्व विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन देना होगा।

  3. प्रश्न : बिहार एलपीसी को बनवाने के लिए कौन-कौन सी आवश्यक दस्तावेज लगेंगे ?

    उत्तर :- बिहार एलपीसी बनवाने के लिए कुछ आवश्यक दस्तावेज लगेंगे, जो इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है।

    भूमिका लगान
    2. खाता नंबर
    3. खसरा नंबर
    4. एलपीसी घोषणा पत्र
    5. जमीन के ओनर का कोई भी एक आईडी प्रूफ

  4. प्रश्न : क्या बिहार एलपीसी बनवाने हेतु कोई भी अतिरिक्त शुल्क देना होगा ?

    उत्तर :- जी बिल्कुल भी नहीं यह बिल्कुल निशुल्क होगा।

  5. प्रश्न : एलपीसी बनवाने हेतु कौन-कौन लोग अपना आवेदन दे सकते हैं ?

    उत्तर :- बिहार एलपीसी बनवाने हेतु कोई भी व्यक्ति आवेदन दे सकता है, मगर कुछ आवश्यक पात्रता के अंतर्गत जैसे कि लगान की राशि का भुगतान एलपीसी के आवेदन करने से पहले अपडेट होना अनिवार्य है और दाखिल खारिज भी जमीन के मालिक का होना चाहिए और तभी आप इसमें अपना आवेदन दे पाएंगे।

  6. प्रश्न : बिहार एलपीसी बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

    उत्तर :- इसकी प्रक्रिया को लेख में विस्तार से पढ़ें।



Leave a Comment