वीपीएन क्या है – वीपीएन यूज करने के फायदे और नुकसान

5/5 - (1 vote)

VPN kya hai इसके बाद तो जानते ही होंगे। वीपीएन का इस्तेमाल करके हम सिक्योर और सिर्फ ब्राउज़िंग कर सकते है। आज के समय में इंटरनेट पूरे तरीके से सुरक्षित नहीं है और अपने डाटा को सुरक्षित रखने के लिए आप वीपीएन का इस्तेमाल कर सकते हैं। शायद आज भी कई सारे लोगों को वीपीएन क्या है? और वीपीएन यूज करने के फायदे और नुकसान? क्या-क्या हो सकते है इसके बारे में विस्तार पूर्वक से पता नहीं होता है और वह इसका इस्तेमाल इंटरनेट पर ब्राउजिंग करने के दौरान नहीं करते है। हम आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें कि वीपीएन का इस्तेमाल करके आप अपने सभी प्रकार के इंटरनेट से कनेक्टेड  गैजेट या फिर डिवाइस को पूरी तरीके से सिक्योर कर सकते है।

अगर आप अपने मोबाइल या फिर लैपटॉप में वीपीएन का इस्तेमाल करने लगे तो हैकर भी आप का पता नहीं लगा पाएंगे और इतना ही नहीं आप पूरे तरीके से सुरक्षित इंटरनेट पर सर्फिंग कर पाएंगे। आज के इस लेख में हम आप सभी लोगों को वीपीएन से संबंधित सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने वाले है और कुल मिलाकर आज का हमारा यह लेख आपके लिए इंटरनेट पर सुरक्षित ब्राउजिंग करने के लिए और अपने डाटा को सेफ रखने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है और इसीलिए हम चाहते हैं कि आप इसे अंतिम तक अवश्य पढ़े।

वीपीएन क्या है

जैसा कि हम सभी लोग जानते है आज के समय में इंटरनेट का उपयोग लगभग हर एक काम के लिए किया जा रहा है। इंटरनेट का उपयोग हम पैसे के लेनदेन के साथ-साथ अपने पर्सनल कामों के लिए भी करते है। जब ऐसे में पूरा काम इंटरनेट से होने लगा है तो लुटेरों और धोखे बाजो को भी अपना काम अब इंटरनेट के सहारे करना पड़ रहा हैं।

जब से इंटरनेट पर लुटेरे और धोखेबाज लोग अपना व्यवसाय शुरू कर के बैठे हो तब से इंटरनेट पूरी तरीके से सिक्योर नहीं रह गया है। अब इंटरनेट का उपयोग तो कोई बंद नहीं कर सकता है, क्योंकि आज इंटरनेट के वजह से कई सारे चीजें घर बैठे आसानी से की जा रही है। इंटरनेट यूजर के सिक्योरिटी को ध्यान में रखते हुए वीपीएन का आविष्कार किया गया।

वीपीएन को आप अपने स्मार्टफोन और लैपटॉप पीसी में भी यूज कर सकते है। वीपीएन आपके इंटरनेट ब्राउजिंग को पूरे तरीके के सिक्योर कर देता है। इतना ही नहीं आपके वास्तविक परिचय को इंटरनेट पर पूरे तरीके से वीपीएन गुप्त रखता है। इसके अतिरिक्त आपके एग्जैक्ट लोकेशन को भी ट्रैक करना मुश्किल रहता है अगर आप वीपीएन का यूज करके इंटरनेट ब्राउजिंग करते है तो।

बड़े से बड़ा हैकर अगर आप वीपीएन का यूज कर रहे है तो आप के डाटा को हैक नहीं कर सकता है क्योंकि उसको आपके एग्जैक्ट ip-address के बारे में पता ही नहीं होगा और ना ही आपके एग्जैक्ट लोकेशन के बारे में पता होगा। अगर आप इंटरनेट पर सेफ्ली ब्राउजिंग करना चाहते है तो आप बिना किसी सोच विचार के वीपीएन का यूज कर सकते हैं।

वीपीएन का फुल फॉर्म

आप में से कई सारे लोग वीपीएन का इस्तेमाल तो करते होंगे परंतु इस का फुल फॉर्म क्या है इसके बारे में किसी को भी पता नहीं होगा। वीपीएन के फुल फॉर्म के बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी है। अगर आप बीपीएल का फुल फॉर्म नहीं जानते है तो कोई बात नहीं यहां पर हम नीचे वीपीएन के फुल फॉर्म के बारे में बताने जा रहे हैं।

 वीपीएन का फुल फॉर्म - ‘Virtual private network’ वीपीएन का फुल फॉर्म होता है।

वीपीएन कैसे काम करता है

आपने अब तक वीपीएन क्या है? और वीपीएन का फुल फॉर्म क्या है? इसके बारे में अच्छे से जान लिया होगा और आपको समझ में भी आ गया होगा। अब वीपीएन को और अच्छे से समझने के लिए आपको इसके कार्यप्रणाली को समझना होगा। वीपीएन एक प्रकार से सरवर होता है जब आप वीपीएन में लॉगिन करके किसी भी प्रकार की इंटरनेट पर ब्राउजिंग करते है तब उस समय आपका डाटा पूरे तरीके से इंक्रिप्टेड होता हैं।

वीपीएन प्राइवेट और पब्लिक नेटवर्क दोनों को ही सिक्योर रखने में अपनी अहम भूमिका निभाता है। जब आप वीपीएन का यूज करके इंटरनेट पर किसी भी वेबसाइट को एक्सेस करते है या फिर कोई भी डाटा फाइंड करते है तब आईएसपी आने के इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर को लगता है कि आप सिर्फ वीपीएन का उपयोग कर रहे है और उसके सरवर को यूज कर रहे है परंतु वीपीएन आप के आधार पर सर्च की गई जानकारी को इंटरनेट पर सर्च करने में आपकी पूरी हेल्प करता है और वह भी बिना किसी को पता चलाएं।

 अगर हमारे देश में कोई भी वेबसाइट ब्लॉक है या फिर उसका इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है परंतु वह वेबसाइट अन्य देशों में लाइव है और उसे किसी अन्य देश से एक्सेस किया जा सकता है तब आप वीपीएन का उपयोग करके अपने लाइव लोकेशन को बिना इंटरनेट पर दिखाएं आप उस ब्लॉक वेबसाइट को भी इस्तेमाल कर सकते है जो हमारे देश में उपयोग नहीं की जा सकती है। वीपीएन का उपयोग करके हम अपने आईपी एड्रेस को भी हाइड कर सकते है और इतना ही नहीं हमारे द्वारा सर्च किया गया हर एक  डाटा इंक्रिप्टेड होता हैं।

 वीपीएन इंटरनेट कनेक्शन को सिक्योर करने में और हमारी एक भी जानकारी को सोशल किए बिना हमें इंटरनेट पर ब्राउजिंग और सर्फिंग करने की सिक्योरिटी प्रदान करता है। वीपीएन का उपयोग इंटरनेट से कनेक्टेड हर एक व्यक्ति को करना चाहिए। अगर आप वीपीएन का उपयोग नॉर्मल रूप में करना चाहते है तब आप इसे फ्री में यूज कर सकते है और अगर आप इसे एडवांस फीचर के साथ यूज करना चाहते है तब आपको ऐसे में थोड़े बहुत शुल्क वीपीएन को यूज करने के लिए देने पड़ सकते हैं।

इसे भी पड़े –

What is dark web in hindi

 वीपीएन प्रोटोकॉल क्या है

जितने भी वीपीएन प्रोटोकोल बनाए गए है उनके अंतर्गत वीपीएन यूजर और वीपीएन सर्वर के बीच में कनेक्शन को सिक्योर रूप से स्थापित किया जाता है। वीपीएन प्रोटोकॉल के जरिए ही वीपीएन यूजर और वीपीएन सर्वर के बीच में डाटा का आदान प्रदान पूरी तरीके से इंक्रिप्टेड होता है। वर्तमान समय में जितने भी  वीपीएन सेवा प्रदाता कंपनियां मौजूद है वह सभी इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित बताई गई बीपीएल प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करती हैं।

  • PPTP
  • SSTP
  • L2TP/IPSec
  • IKEv2/IPSec
  • IPSec
  • OpenVPN
  • SOFTETHER
  • Wireguard

ध्यान दें

Wireguard वीपीएन प्रोटोकोल अभी एक्सपेरिमेंट फेस में है। जब इसका सफलतापूर्वक एक्सपेरिमेंट पूरा कर लिया जाएगा तब इसे सभी पीपीएन सेवा प्रदाता कंपनी अपने प्रोटोकॉल में शामिल कर लेगी और इसका उपयोग करना शुरू कर देगी।

वीपीएन कैसे डाउनलोड करें

दोस्तों आप वीपीएन को अपने मोबाइल में और अपने कंप्यूटर में भी इंस्टॉल करके इसका उपयोग कर सकते है। जहां पर हम आपको स्मार्ट फोन और कंप्यूटर दोनों में ही वीपीएन को डाउनलोड करने के प्रोसेस को बताएंगे।

मोबाइल में वीपीएन डाउनलोड कैसे करें

यहां पर वीपीएन को मोबाइल फोन में डाउनलोड करने की प्रोसेस को बताया गया है।

STEP 1. गूगल के प्ले स्टोर में जाना है और वहां पर आपको कोई भी फाइव स्टार रेटिंग वाला और अच्छी रिव्यू रेटिंग वाला वीपीएन सेलेक्ट कर लेना है।

STEP 2.  वीपीएन का चुनाव करने के बाद आपको उस पर क्लिक कर देना है और आपके सामने वहां पर इनस्टॉल का ऑप्शन आ जाएगा। 

STEP 3. अब आपके फोन में वीपीएन इंस्टॉल हो जाएगा और आप इसका उपयोग कर पाएंगे।

कंप्यूटर में वीपीएन डाउनलोड कैसे करें

जिस प्रकार से आप अपने स्मार्टफोन में वीपीएन को डाउनलोड करते है ठीक उसी प्रकार से आप को कंप्यूटर में भी वीपीएन को डाउनलोड करना है। बस आप को प्ले स्टोर के जगह पर क्रोम ब्राउजर के जरिए वीपीएन को डाउनलोड करना होगा। वीपीएन के सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के बाद आप इसका उपयोग कंप्यूटर में आसानी से कर पाएंगे।

 वीपीएन को कैसे यूज करते हैं

मोबाइल में वीपीएन एप्लीकेशन को डाउनलोड करिए और कंप्यूटर में वीपीएन के क्रोम एक्सटेंशन को डाउनलोड कर ले। अब आपको वीपीएन में अपना अकाउंट बना लेना है और अपने वीपीएन को लाइसेंस एक्टिवेशन की के माध्यम से इसे एक्टिवेट कर लेना है। 

बस आप मोबाइल में सबसे पहले इंटरनेट चालू करने के बाद बीपीएन एप्लीकेशन को ओपन करिए और फिर इसे इंटरनेट की सहायता से कनेक्ट कर लीजिए और आप इस प्रकार से अपने मोबाइल फोन में वीपीएन को सर्फिंग और डाउनलोडिंग करने के लिए एक्टिवेट कर लेंगे। 

ठीक इसी प्रकार से आपको क्रोम ब्राउज़र के एक्सटेंशन में भी जाकर वीपीएन का अकाउंट क्रिएट कर लेना है और इसे लाइसेंस की के माध्यम से एक्टिवेट कर लेना है। अब आप जब भी क्रोम ब्राउज़र के सहायता से कोई भी डाउनलोडिंग या फिर शॉपिंग करेंगे तोअपने आप वीपीएन एक्टिव होगा।

 वीपीएन का यूज कौन कौन कर सकता है और क्या वीपीएन का यूज़ करना चाहिए है

वीपीएन का यूज हर एक इंटरनेट से कनेक्टेड व्यक्ति को करना चाहिए अगर आप इंटरनेट का उपयोग करते है तो आपको वीपीएन यूज करना ही चाहिए। वीपीएन का यूज करने में कोई भी समस्या नहीं है बल्कि वीपीएन का यूज सबको करना चाहिए। वीपीएन के यूजर से आप अपने डाटा तो पूरी तरीके से इंक्रिप्टेड कर सकते है और इंटरनेट हैकर से खुद को सिक्योर रख सकते हैं।

वीपीएन यूज करने के फायदे

वीपीएन यूज करने के बहुत सारे फायदे है और उनमें से कुछ इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित हैं।

  • अगर आप इंटरनेट पर प्राइवेसी संबंधित समस्या को सॉल्व करना चाहते है और अपना एग्जैक्ट लोकेशन रिवील नहीं कर सकते तब ऐसे में आपको वीपीएन यूज़ करना चाहिए।
  • वीपीएन का यूज करने पर हमें इंटरनेट पर पूरी तरीके से सिक्योरिटी प्राप्त होती है और हमारे डाटा पूरी तरीके से इंक्रिप्टेड होता है।
  • हमारे एग्जैक्ट लोकेशन को ट्रैक करना मुश्किल रहता है।
  • वीपीएन का यूज करके हम इंटरनेट के स्पीड को काफी हद तक इंप्रूव कर सकते हैं।
  • इंटरनेट पर सेंसरशिप से हमें आजादी मिलती है और हम जो चाहे वह डाटा अपने मन मुताबिक इंटरनेट पर सर्फ कर सकते है और जितना मन चाहे उतना यूज कर सकते हैं।
  • हम ब्लॉक वेबसाइट को भी वीपीएन के सहारे यूज कर सकते हैं।

इसे भी जाने –

Computer basic knowledge in hindi | कंप्यूटर का सामान्य ज्ञान।

वीपीएन यूज करने के नुकसान

जिस प्रकार से वीपीएन यूज करने के बहुत सारे फायदे है और ठीक उसी प्रकार से वीपीएन यूज करने के कुछ नुकसान भी है जो नीचे निम्नलिखित हैं।

  • कई सारे नए लोग सोचते है कि वह भी पीएम के जरिए अपने आप को पूरी तरीके से गुप्त रख पाएंगे तो आपका सोचना बिल्कुल गलत है क्योंकि वीपीएन के सरवर में आपका डाटा सुरक्षित रहता हैं।
  • कई सारे फ्री वीपीएन आपके डाटा को मिस यूज कर सकते है क्योंकि उनके पास आपका पूरा डाटा सर्वर में सुरक्षित रहता है और कई सारे तो फ्रॉड वीपीएन ऐसा करते भी हैं।
  •  वीपीएन का सबसे ज्यादा मिस यूज हैकर करते है क्योंकि वह इसका उपयोग करके अपने गलत इरादे को अंजाम देने में कामयाब रहते हैं।
  •  इंटरनेट पर जब वीपीएन के जरिए कोई यूजर सर्फिंग या फिर डाउनलोडिंग करता है तब उस दौरान गूगल सर्वर और वीपीएन सर्वर के बीच एक इंक्रिप्टेड कनेक्शन स्थापित रहता है और इसकी वजह से इंटरनेट की स्पीड थोड़ी स्लो आपको महसूस हो सकती हैं।

आवश्यक सूचना

हम कभी भी वीपीएन का यूज करने की सलाह नहीं देते है हमारा मकसद केवल इस आर्टिकल के जरिए आपको इस जानकारी के बारे में समझाने का था। अगर आप वीपीएन का यूज़ करते है और आपको प्राइवेसी संबंधित कोई खतरा होता है तो आप इसके खुद जिम्मेदार होंगे। हम कभी भी इसका यूज करने की सलाह नहीं देंगे। अगर आप फिर भी इसका यूज करते है तो आप उसके खुद जिम्मेदार होंगे।

FAQ about VPN kya hai

Q: कंप्यूटर के लिए बेस्ट वीपीएन?

ANS कंप्यूटर के लिए बेस्ट वीपीएन इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है।

CyberGhost
Finch VPN
Hotspot Shield
OpenVPN
Windsribe
Surf Easy
Tunnel Bear
ZPN connect
Zenmate
Total VPN

Q: मोबाइल फोन के लिए बेस्ट वीपीएन?

ANS मोबाइल फोन के लिए बेस्ट वीपीएन इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है।
ExpressVPN
Windscribe
NordVPN
Tiger VPN
SaferVPN
Buffered VPN

Q: वीपीएन का इस्तेमाल करना सही है या फिर गलत?

ANS वीपीएन का यूज हर एक इंटरनेट को एक्सेस करने वाले व्यक्ति को करना चाहिए क्योंकि इससे आपकी रियल आइडेंटी पूरी तरीके से सुरक्षित रहती है।

Q: वीपीएन सेटिंग किसे कहते हैं?

ANS वीपीएन सेटिंग वीपीएन के अंदर की एक ऐसी सेटिंग का ऑप्शन होता है जिसके जरिए आप जहां चाहे वहां अपना सर्वर लोकेशन चयन कर सकते हैं।

Q: क्या वीपीएन का यूज़ फ्री में कर सकते हैं?

ANS जी हां बिल्कुल आप वीपीएन का यूज फ्री में भी कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों को वीपीएन क्या है ( VPN kya hai) और वीपीएन यूज करने के फायदे एवं नुकसान क्या है? इसके बारे में विस्तार पूर्वक से जानकारी प्रदान की हुई है। हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए काफी यूज़फुल और हेल्पफुल रही होगी।

इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी सवाल या फिर सुझाव है तो कमेंट बॉक्स में आप हमें बताएं। आर्टिकल पूरा पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद और आपका समय शुभ हो। इसके अतिरिक्त आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले। 

Share on:

मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं?, आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। धन्यवाद Gmail ID - [email protected]

Leave a Comment