Uidai Full Form – यूआईडीएआई का हिंदी में फुल फॉर्म क्या है

Uidai Full Form – भारत में अपना पहचान बताने के लिए आधार कार्ड सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। भारत में आधार कार्ड पंजीकरण करने के लिए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण नाम के संगठन की शुरुआत की गई है, जिसे अंग्रेजी में UIDAI के नाम से जानते है। अगर आप भारत के निवासी है तो आपको यूआईडीएआई का हिंदी में फुल फॉर्म क्या है? के बारे में पता होना चाहिए। इसके संबंध में विस्तार पूर्वक जानकारी देने के लिए आज के लेख को लिखा जा रहा है। 

UIDAI एक सरकारी संस्था है जिसे 2010 में आधार कार्ड बनाने के लिए और भारत के हर व्यक्ति की जानकारी रखने के लिए बनाया गया था अगर आप भारत के निवासी हैं तो इस संस्था के पास आपकी जानकारी भी मौजूद होगी। uidai full form क्या है और इसे क्यों बनाया गया था इस संबंध में जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे लेख के साथ अंत तक बने रहे। 

UIDAI क्या है 

जैसा कि हमने आपको बताया यह भारत सरकार द्वारा शुरू किया गया भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण संगठन है जिसमें भारतीय सरकार देश में रहने वाले सभी नागरिकों को आधार कार्ड मुहैया करवाती है इस संस्था का मुख्य काम भारत में मौजूद सभी नागरिकों के लिए आधार कार्ड बनाना और उस में होने वाली किसी भी प्रकार की त्रुटि को सुधारना है। 

इसकी शुरुआत 29 सितंबर 2010 में की गई थी उस वक्त भारत के लगभग सभी जगहों पर आपको छोटी मोटी वशिष्ठ पहचान परिधि करण कि ऑफिस मिल जाती थी। मगर 2016 में जब जिओ आया तो हर किसी के लिए इंटरनेट इतना सस्ता हो गया कि इस संगठन ने अपनी एक वेबसाइट बनाकर हर किसी को ऑनलाइन सुविधा देना प्रारंभ किया। 

आज अगर आपको अपना मोबाइल नंबर आधार कार्ड से जुड़वाना है फिर केवल तभी किसी CMS सेंटर में जाने की आवश्यकता पड़ेगी इसके अलावा आपको किसी भी प्रकार की सुविधा के लिए UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट बनाई गई है। इस वेबसाइट पर आप आधार कार्ड में होने वाली किसी भी त्रुटि को सुधार सकते है। 

इसे पड़े – आधार कार्ड अपॉइंटमेंट कैसे लें How to Book Appointment Online for Aadhar Enrolment, update in hindi,

Uidai Full Form

UIDAI का फुल फॉर्म Unique Identification Authority of India होता है। इसे इसे हिंदी में भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण कहते है। 

यह 2010 में शुरू की गई एक संस्था है जिसके जरिए लोगों को भारतीय नागरिक होने का सबूत अर्थात आधार कार्ड बना कर दिया जाता है इस संस्थान का काम आधार कार्ड बनाना आधार कार्ड में होने वाली त्रुटि को सुधारना और आधार कार्ड से जुड़े अन्य प्रश्नों का उत्तर देना है। 

UIDAI से आधार कार्ड सुधारते है

आपके आधार कार्ड में अगर किसी भी प्रकार की त्रुटि होती है तो आप UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट से कुछ त्रुटि को सुधार सकते हैं उसके लिए किस प्रक्रिया का ध्यान रखना होगा इसके बारे में संक्षिप्त विवरण नीचे दिया गया है – 

सबसे पहले आपको UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है और वहां लॉग इन करने का एक विकल्प मिलेगा जिसमें आपको अपना आधार कार्ड नंबर लिखना है आमतौर पर आधार कार्ड नंबर 12 अंक का होता है इस 12 अंक नंबर को लिखने के बाद नीचे कैप्चा भरने का एक स्थान दिया होगा। 

इसे भरने के बाद जो मोबाइल नंबर आपके आधार कार्ड से जुड़ा हुआ होगा उस पर एक ओटीपी जाएगा जिस ओटीपी को अधिकारिक वेबसाइट में बनाए गए सही स्थान पर भरना होगा। 10 मिनट के अंदर अगर मोबाइल पर गई ओटीपी को आप भर देते हैं तो आपके समक्ष एक पेज खुलेगा जिसमें आपका आधार कार्ड स्टेटस दिखाया जाएगा। 

आधार कार्ड क्या सुधार सकते हैं इसकी भी जानकारी दी गई होगी अगर आपको अपना एड्रेस सुधारना है तो डेमोग्राफी विकल्प को चुनें और अगर आपको अपना नाम जन्म तिथि या इस तरह की किसी अन्य चीज को सुधारना है तो इसके लिए आपको उस के संदर्भ में दिए गए विकल्प का चयन करना होगा।

इस वेबसाइट पर त्रुटि को सुधारने के लिए सही विकल्प का चयन करने के बाद आपसे आवश्यक दस्तावेज मांगे जाएंगे जैसे अगर आपको अपना पता सुधारना है तो कोई ऐसा दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा जहां वह पता लिखा हो जिसे आप सुधार कर लिखना चाहते हैं उसके पश्चात आपको सबमिट कर देना है और कुछ दिन बाद आपको आपका आधार कार्ड इसी वेबसाइट पर डाउनलोड करने के लिए मिल जाएगा।  

इसे भी जाने – aadhar card link with mobile number – मोबाइल नंबर को आधार से लिंक कैसे करें?

यूआईडीएआई फुल फॉर्म? से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न 

यहां पर हमने यूआईडीएआई का फुल फॉर्म क्या है? से संबंधित पूछे जाने वाले कई अन्य आप लोगों के महत्वपूर्ण प्रश्नों का उत्तर दिया हुआ है एक बार इन प्रश्नोत्तर को भी जरूर पढ़ें।

Q. Uidai Full Form?

UIDAI का फुल फॉर्म Unique Identification Authority of India होता है।

Q. UIDAI को कब शुरू किया गया था?

आधार कार्ड को और UIDAI की संस्था को 29 सितंबर 2010 में शुरू किया गया था।

Q. सबसे पहले किसका आधार कार्ड बना था?

29 सितंबर 2010 को आधार कार्ड बनाने की प्रक्रिया को शुरू किया गया था जिसमें महाराष्ट्र के एक गांव में रहने वाली रंजना नाम की एक महिला का आधार कार्ड सबसे पहले बनाया गया था।

निष्कर्ष

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को Uidai Full Form के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की हुई है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई आज कि यह महत्वपूर्ण जानकारी आपके लिए काफी ज्यादा यूज़फुल और हेल्पफुल साबित हुई होगी।

अगर आपके लिए हमारी आज की यह जानकारी जरा सभी हेल्पफुल और यूज़फुल साबित हुई हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप जैसे ही अन्य लोगों को भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में आप के जरिए पता चल सके एवं उन्हें ऐसे ही महत्वपूर्ण लेख पढ़ने के लिए कहीं और बार-बार भटकने की बिल्कुल भी आवश्यकता ना हो।

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हो हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.