Tet Full Form In Hindi – टेट का हिंदी में फुल फॉर्म क्या है

Tet Full Form In Hindi आपको इस बात की जानकारी जरूरी होगी कि आजकल लगभग सभी लोग सरकारी नौकरी पाना चाहते है और इसके लिए वो विभिन प्रकार परिक्षा देते है। अगर आप भी सरकारी नौकरी पाना चाहते है और शिक्षक के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है तो आपको TET full form in Hindi के बारे में पता होना चाहिए। 

अगर आप एक शिक्षक बनना चाहते है तो आपको TET की परीक्षा पास करनी होती है। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको TET full form in hindi के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे। आपको यह भी बताएंगे कि TET क्या है और TET एग्जाम देने के लिए आपके पास कितनी योग्यता होनी चाहिए।  

TET क्या है 

TET full form in hindi को जानने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि TET आखिर होता क्या है? 

आपको बता दें कि TET एक ऐसी परीक्षा है जिसके माध्यम से शिक्षकों की भर्ती की जाती है। हर राज्य में शिक्षा की स्थिति को सुधारने के लिए और शिक्षा व्यवस्था को अच्छा बनाने के लिए राज्य सरकार के द्वारा TET परीक्षा का आयोजन किया जाता है ताकि शिक्षकों की आपूर्ति हो सके। हम आपको बता दें कि यह परीक्षा भारत के पूरे राज्य में केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा आयोजित किया जाता है। 

जो लोग इस परीक्षा में पास होते है उन्हें सरकारी शिक्षक बनने का मौका मिलता है। TET की परीक्षा हर राज्य के व्यवसायिक परीक्षा बोर्ड के द्वारा आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा में पास करने वाले परीक्षार्थी को उनके नंबर के मुताबिक पढ़ाने का मौका दिया जाता है। यह परीक्षा दो पेपरों में ली जाती है। पहले पेपर में जो व्यक्ति पास करता है उसे एक से पांच तक के वर्ग में पढ़ाने का मौका मिलता है और जो दोनों पेपर अच्छे से पास कर लेता है उसे 6 से 8 तक की वर्ग में पढ़ाने का मौका मिलता है। 

इसे भी पड़े 5 Best Online Padhai App | ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें?।

TET full form in hindi 

अब आपके मन में यह सवाल जरूर उठ रहा होगा कि आखिर TET का फुल फॉर्म क्या होता है। तो हम आपको बता दें कि TET का फुल फॉर्म Teacher Eligibility Test होता है। 

इसे हिंदी में हम कह सकते है शिक्षक योग्यता परिक्षा। इस परीक्षा को पास करने वाला भारत में सरकारी शिक्षक बनाने के योग्य हो जाता है। वह किस अस्तर पर शिक्षक बनेगा यह उसके प्राप्त मार्क्स पर निर्भर करता है।

TET परीक्षा से जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी 

हम आपको बता दें कि TET परीक्षा का आयोजन राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार भी करती है। यह परीक्षा चाहे राज्य सरकार के द्वारा आयोजित की गई हो या फिर केंद्र सरकार के द्वारा आयोजित की गई हो। अगर इस परीक्षा को कोई परीक्षार्थी पास करता है तो उसे सरकारी टीचर बनने का मौका मिलता है। 

  • TET परीक्षा में 2 पेपर होते हैं। 
  • जो परीक्षार्थी एक से पांच तक का टीचर बनना चाहते हैं उन्हें पहला पेपर पास करना होता है और जो 6 से 8 तक का शिक्षक बनना चाहते है उसे दूसरा पेपर में भी पास करना होता है। 
  • इस एग्जाम में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं रहती है। 
  • दोनों ही पेपर के लिए यानी कि पहले पेपर और दूसरे पेपर दोनों के लिए बराबर समय मिलता है। दोनों पेपर को बनाने के लिए परीक्षार्थी को ढाई घंटे का समय दिया जाता है। 
  • प्रश्न पत्र पर जितने भी प्रश्न होते है उनको दो भाषा में लिखा जाता है इंग्लिश और हिंदी। ताकि हर बच्चा समझ सकता है। 
  • एक बार अगर आप TET परीक्षा को अच्छे से पास कर लेते है तो उसके बाद जो आपको सर्टिफिकेट मिलता है उस सर्टिफिकेट का मान्य 7 साल तक रहता है। 7 साल बाद आपको फिर TET का एग्जाम देना होता है। 

इसे भी जाने online form kaise bhare 2021| ऑनलाइन फॉर्म कैसे भरते है

TET से प्राथमिक स्तर के शिक्षकों के लिए योग्यता 

जो लोग TET परीक्षा पास करके एक से पांच तक के बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं उनके पास निम्नलिखित योग्यता होनी जरूरी है। 

  • 12वीं कक्षा में उनको 45 परसेंट से अधिक नंबर होने चाहिए। 
  • किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से उनके पास डिप्लोमा की डिग्री होनी चाहिए। 
  • 2 साल का डिप्लोमा प्राथमिक शिक्षा में भी होना चाहिए। 
  • परीक्षार्थी ग्रेजुएशन या फिर b.ed पास होना चाहिए या फिर ग्रेजुएशन या b.ed के अंतिम साल में होना चाहिए। 

TET से ऊपरी प्राथमिक स्तर के लिए योग्यता

चलिए अब हम आपको बताते हैं कि ऊपरी प्राथमिक स्तर पर शिक्षक बनने के लिए आपके पास क्या-क्या योग्यता होना अनिवार्य है। 

  • 12वीं कक्षा में आपको 50 परसेंट से अधिक से पास होना चाहिए। साथ ही D.ED कोर्स भी 50 परसेंट प्लस मार्क्स चाहिए। 
  • किसी मान्यता बोर्ड से परीक्षार्थी ग्रेजुएशन पास होना चाहिए और परीक्षार्थी को ग्रेजुएशन में 50% प्लस नंबर होना अनिवार्य है। साथ ही उसके पास 2 साल का डिप्लोमा कोर्स भी होना जरूरी है और डिप्लोमा में भी 50 परसेंट मार्क्स होने चाहिए। 
  • 12वीं 50 परसेंट से अधिक से पास होने के साथ ही उसे 4 साल का b.ed कोर्स पास करना पड़ेगा या फिर अगर वह b.ed के लास्ट ईयर में है तो भी वह TET का एग्जाम दे सकता है। 

टेट की फुल फॉर्म संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर

टेट को हिंदी में क्या कहते हैं? से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर यहां पर दिए गए हैं।

Q. TET का फुल फॉर्म क्या होता है?

TET full form – Teachers Eligibility Test होता है।

Q. TET की परीक्षा पास करने पर कौन सी नौकरी मिलती है?

TET की परीक्षा पास करने पर सरकारी स्कूल में टीचर बनाने की नौकरी मिलती है।

Q . TET की परिक्षा पास करने पर कितने साल के अंदर नौकरी हासिल करना होता है?

अगर आप TET की परीक्षा पास करते है तो उसका सर्टिफिकेट 7 साल के लिए मान्य रहता है और इसके बाद अगर आप शिक्षक के नौकरी के लिए आवेदन करते है तो आपको यह परीक्षा फिर से आवेदन करना होता है।

निष्कर्ष

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को Tet Full Form In Hindi के विषय में विस्तार पूर्वक से महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा प्रस्तुत की गई यह जानकारी आपको काफी पसंद आई होगी।

टेट का हिंदी मतलब? से संबंधित प्रस्तुत की गई यह जानकारी अगर आपको अच्छी लगी हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप जैसे ही अन्य लोगों को भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में पता चल सके और उन्हें कहीं भटकने की आवश्यकता ना हो इस विषय पर जानकारी के बारे में जानने के लिए।

अगर आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हो हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण ले को शुरू से अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.