Online Ko Hindi me Kya kehte Hai

जब से इंटरनेट का इस्तेमाल पहले के मुकाबले कई गुना बढ़ गया तब से हमें एक शब्द हमेशा बार-बार सुनाई देता है वह ऑनलाइन। आपने लोगों को कहते हुए सुना होगा कि ऑनलाइन ही से कर दो, ऑनलाइन इस काम को किया जा सकता है, ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज कर दो। जब कोई भी व्यक्ति किसी भी कार्य को इंटरनेट के जरिए करने के लिए कहता है तो वह गलत ऑनलाइन कब तक का इस्तेमाल करता है। 

और अब सवाल उठता है कि आखिर Online Ko Hindi Me Kya kehte Hai आप में से कई सारे लोगों को इस प्रश्न का जवाब जानने की इच्छा हुई होगी परंतु आपको सही से कहीं पर भी इसका उत्तर अब तक शायद ना मिला हो। आज हम आपको अपने इस महत्वपूर्ण लेख के माध्यम से ऑनलाइन को हिंदी में क्या कहते है? के बारे में विस्तारपूर्वक से जानकारी देंगे। 

और अगर आप ऑनलाइन शब्द का हिंदी जानना चाहते हो तो आपको इस विषय पर आज हमारे इस लेख में विस्तृत जानकारी मिलने वाली है और आप इसे अंतिम तक ध्यान से जरूर पढ़ें ताकि आपको इस जानकारी को कहीं और जाकर पढ़ने की बिल्कुल भी जरूरत ना हो।

ऑनलाइन को हिंदी में क्या कहते है

ऑनलाइन को हिंदी में संपर्क युक्त कहते है, जिसका अर्थ होता है कि आप किसी से किसी भी माध्यम से संपर्क में है। इसके अलावा कई सारी वेबसाइट यहां तक कि गूगल पर भी ऑनलाइन का हिंदी में अर्थ ऑनलाइन ही बताया गया है। आप ऑनलाइन को हिंदी में ऑनलाइन भी कह सकते हो आप संपर्क युक्त भी कह सकते हो।

उदाहरण के तौर पर मान लीजिए जब आप इंटरनेट एक्सेसिबल डिवाइस का इस्तेमाल करके इंटरनेट पर कोई भी ब्राउजिंग या फिर किसी भी प्रकार की गतिविधि करते हो तो आप इसे ऑनलाइन गतिविधि या फिर से ऑनलाइन रहना भी कह सकते हो। साधारण शब्दों में जब हम इंटरनेट को एक्सेस करते है और इंटरनेट का इस्तेमाल अपने किसी भी काम को करने के लिए करते है तो किस परिस्थिति को ऑनलाइन कहा जाता है।

 ऑफलाइन को हिंदी में क्या कहते है

आप लाइन को हिंदी में असंपर्क युक्त कहते है, जिसका अर्थ होता है कि जब आप इंटरनेट से जुड़े नहीं होते हो तब इसी परिस्थिति को ऑफलाइन कहा जाता है यानी कि असंपर्क युक्त। यहां तक की गूगल या किसी अन्य वेबसाइट पर ऑफलाइन का हिंदी में अर्थ ऑफलाइन ही होता है।

उदाहरण के तौर पर माल दीजिए आप इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करते हो और आप इंटरनेट से दूर दूर कहीं भी कनेक्टेड नहीं हो तो आप इस पर किसी को ऑफलाइन कह सकते हो। इसके अलावा जब आप इंटरनेट पर ऑनलाइन रहते हो और अचानक से इंटरनेट चलना बंद हो जाता है या फिर इंटरनेट कनेक्शन किन्ही कारणों से रोक दिया जाता है तो इस परिस्थिति को ऑफलाइन रहने की परिस्थिति को कहा जाता है। साधारण शब्दों में जब हम इंटरनेट एक्सेस नहीं कर पाते है तब हम ऐसी परिस्थिति में खुद को ऑफलाइन पाते है और इसी को ऑफलाइन कहा जाता है। 

इसे भी जाने –

ऑनलाइन और ऑफलाइन में क्या अंतर है

चलिए हम आप सभी लोगों को आगे ऑफलाइन और ऑनलाइन में क्या अंतर है? के बारे में भी जानकारी दे देते है कई सारे लोगों को ऑनलाइन और ऑफलाइन में अंतर समझ में नहीं आता है और भी इसको लेकर काफी ज्यादा कंफ्यूज रहते है परंतु आप नीचे दी गई जानकारी को आसानी से पढ़ कर अपना कन्फ्यूजन ऑनलाइन और ऑफलाइन के बीच का दूर कर पाओगे।

  • दोस्तों जब हम इंटरनेट का इस्तेमाल करके किसी भी प्रकार की इंटरनेट पर लाइव वीडियोस को देखते है तब हम उसे ऑनलाइन कहते है और जब हम उसी वीडियो को डाउनलोड करके इंटरनेट बंद करके देखते है तब हम इसे ऑफलाइन कहते हैं।
  • जब आप घर बैठकर अपनी पढ़ाई को मोबाइल फोन या फिर लैपटॉप के जरिए ऑनलाइन क्लासेस लेते हो तो इसे भी ऑनलाइन ही कहा जाता है और जब आपकी स्कूल या फिर अपने कॉलेज में फिजिकल तरीके से जाकर पढ़ाई करते हो तो उसे ऑफलाइन कहा जाता है।
  • जब हम इंटरनेट का इस्तेमाल करने के लिए उसे ऑन करते है और हम इंटरनेट पर अपनी जब ब्राउजिंग शुरू करते है तब इस परिस्थिति को भी ऑनलाइन ही कहा जाता है और जब हम अपने मोबाइल फोन में इंटरनेट को एक्सेस नहीं करते और ना ही किसी भी प्रकार का अन्य इसका उपयोग करते है तब हम उस दौरान अपने डाटा को बंद करके रखते है और इसे ऑफलाइन कहा जाता है। 
  • जब आप अपने नजदीकी रिटेलर की दुकान पर जाकर मोबाइल फोन का रिचार्ज करते हो तो इस प्रक्रिया को ऑफलाइन मोबाइल रिचार्ज प्रक्रिया कहां जाता है और जब आप घर बैठे इंटरनेट के जरिए  अपना मोबाइल रिचार्ज करते हो तब इसे ऑनलाइन मोबाइल रिचार्ज की प्रक्रिया कहा जाता है। 

 सोशल मीडिया में ऑनलाइन को क्या कहते है

इसका मतलब है की इंटरनेट का इस्तमाल कर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ जुड़ना जुड़े रहना जहाँ आप एक दुसरे के साथ फ्रेंडशिप, रिलेशनशिप, एजुकेशन, इंटरेस्ट का आदान प्रदान करना ही सोशल मीडिया पर ऑनलाइन कहा जाता है। सोशल मीडिया पर ऑनलाइन को ऑनलाइन ही कहते हैं। 

जब हम इंटरनेट को चालू करके किसी भी सोशल मीडिया अकाउंट को ओपन करते है तब हमारा उस सोशल मीडिया पर अकाउंट ऑनलाइन संकेतिक करने लगता है। इसे आपको इस तरीके से समझ सकते है मान लीजिए आपके पास फेसबुक पर अकाउंट है और आपके दोस्त के पास भी फेसबुक अकाउंट है और आप एक  दूसरे से फेसबुक के जरिए जुड़े हुए हो तब ऐसी परिस्थिति में जब आपका दोस्त फेसबुक को इस्तेमाल करने के लिए ऐप को ओपन करेगा। 

और इंटरनेट को ऑन करें गा तब अगर आप भी ऑनलाइन उस वक्त होगे सब इस परिस्थिति में आपको अपने दोस्त का फेसबुक अकाउंट ऑनलाइन संकेतिक करता हुआ दिखाई देगा और आपको पता चल जाएगा कि आपका दोस्त अभी फेसबुक पर ऑनलाइन है और फेसबुक पर ऑनलाइन का स्टेटस ग्रीन सिग्नल में दिखाई देता है। इससे पता चलता है कि फेसबुक पर ग्रीन सिग्नल वाले सभी ऑनलाइन होते हैं।

 सोशल मीडिया में कैसे पता चल सकता है की कोई ऑनलाइन है?

अगर आपको जानना है कि आप जो भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हो उस पर आपके फ्रेंड सर्कल में कौन-कौन से लोग ऑनलाइन है तब इस परिस्थिति में आपको हमारे द्वारा बताए गए नीचे जानकारी को ध्यान से पढ़ना होगा और आप इसे ध्यान से पढ़ने के बाद आसानी से समझ पाओगे कि कोई भी सोशल मीडिया पर जब ऑनलाइन होता है तो हमें कैसे पता चल सकता है इसके लिए नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से समझे।

  • सबसे पहले आप जो भी सोशल मीडिया अकाउंट इस्तेमाल करते हो या फिर आपको जिस किसी भी सोशल मीडिया अकाउंट पर जाना है कि कौन-कौन लोग ऑनलाइन है, तब आपको सबसे पहले अपना सोशल मीडिया अकाउंट ओपन कर लेना है।
  • आप जैसे ही सोशल मीडिया अकाउंट ओपन करोगे आप इसके होम इंटरफ़ेस पर चले जाओगे।
  • अब यहां पर कौन-कौन ऑनलाइन है जानने के लिए आप अपने फॉलोअर्स या फिर अपने दोस्तों की सूची को ओपन करें।
  • आपको आपके सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने फ्रेंड या फिर फॉलोअर्स की लिस्ट देखने का विकल्प आसानी से मिल जाएगा और आप उस वाले विकल्प पर क्लिक कर दीजिए।
  • अब यहां पर जितने भी लोग उस समय ऑनलाइन होंगे आपको उनका स्टेटस ग्रीन सिग्नल में ऑनलाइन को प्रदर्शित करता हुआ दिखाई देगा।
  • मान लीजिए आपका सोशल मीडिया अकाउंट पर अभिषेक नाम का कोई फ्रेंड है और अगर वह उस समय ऑनलाइन होगा तब आपको उसके नाम के सामने ग्रीन सिगनल दिखाई देगा और आप आसानी से इस सिग्नल को देखकर पहचान जाओगे कि आपका दोस्त उस समय ऑनलाइन है और अगर आपके दोस्त के नाम के सामने कोई भी सिग्नल ग्रीन या फिर किसी भी अन्य कलर का नहीं दिखाई देता है तो समझ लीजिए आपका दोस्त उस वक्त ऑफलाइन है और वह जैसे ही ऑनलाइन आएगा उसका सिग्नल ऑटोमेटिक ग्रीन हो जाएगा और आप इस तरीके से जान जाओगे कि कोई भी सोशल मीडिया पर इस तरीके से ऑनलाइन आता है तो हमें पता चल पाता है।

इसे भी जाने –

निष्कर्ष

हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को Online Ko Hindi Me Kya kehte Hai के बारे में विस्तार पूर्वक से सरल शब्दों में उपयोगी जानकारी सुल्तान की हुई है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा  दी गई यह जानकारी आप लोगों के लिए काफी उपयोगी साबित हुई होगी।

यदि आप लोगों को हमारी यह जानकारी पसंद आई हो या फिर आप लोगों के लिए जरा सी भी उपयोगी साबित हुई हो तो आप इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करना ना भूले ताकि आप के जरिए अन्य लोगों को इस प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में पता चल सके और उन्हें आगे कुछ इसी प्रकार के टेक्नोलॉजी और अन्य महत्वपूर्ण लेख को पढ़ने के लिए कहीं और बार-बार भटकने की बिल्कुल भी आवश्यकता ना हो।

यदि आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल है या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का प्रयास करेंगे और हमारे आज के इस महत्वपूर्ण लेख को शुरुआत से लेकर अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ एवं मंगलमय हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.