Noida Ka Full Form क्या है

दोस्तों अपने नोएडा के बारे में तो सुना ही होगा आज नोएडा सभी लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बन रहा है। क्या आप जानते हो कि Noida Ka Full Form क्या है? यदि आप नोएडा के बारे में नहीं जानते हो और इतने फुल फॉर्म के बारे में भी आपको जानकारी नहीं है तो कोई बात नहीं आज हम आपको अपने इस महत्वपूर्ण लेख के जरिए नोएडा से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी के बारे में बताने वाले है

और आज आपके लिए हमारा यह लेख नोएडा के बारे में जानने के लिए काफी महत्वपूर्ण लेख साबित हो सकता है और इसीलिए हम चाहते है कि आप हमारे आज के इस लेख को शुरुआत से लेकर अंतिम तक ध्यान पूर्वक से जरूर पढ़ें और नोएडा के बारे में रोचक जानकारी जाने।

नोएडा का फुल फॉर्म क्या है

दोस्तों अगर आप नोएडा में घूमने के लिए जाते हो तो आपको नोएडा का फुल फॉर्म पता होना चाहिए हम आपको यह बता दें कि नोएडा का फुल फॉर्म न्यू ओखला इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी होता है और नोएडा 203 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ क्षेत्र है। 

नई दिल्ली से नोएडा सिटी की दूरी मात्र 20 किलोमीटर की ही है और नोएडा में 50 परसेंट हरियाली होने से भारत का हरा भरा राज्य कहलाता है। आज के डेट में आपको नोएडा में बड़े बड़े औद्योगिक कंपनियां मिल जाएगी और इतना ही नहीं आपको वर्तमान समय में बड़ी बड़ी औद्योगिक कंपनी ने अपना प्लांट नोएडा सेक्टर में लगा रखा है और आज नोएडा को स्मार्ट सिटी के नाम से भी जाना जाता है। 

नोएडा शहर की स्थापना क्यों की गई थी

दोस्तों आपने नोएडा से संबंधित बहुत कुछ जानकारी हासिल कर ली अब हम बात करते है कि नोएडा की स्थापना क्यों की गई नोएडा की स्थापना इसलिए की गई ताकि लोग यहां पर कमाने के साथ-साथ निवास करने लगे नोएडा शहर दिल्ली में उपस्थित है अब हम दिल्ली से ही नोएडा की शुरुआत करते है हमारा देश आजाद होने से पहले ही नवाब और मुगलों ने अपने ही राज्य में भारत की राजधानी दिल्ली को स्थापित कर दिया। 

और जैसे-जैसे करके दिल्ली में लोगों की संख्या बढ़ती गई वैसे ही दिल्ली में लोगों को रहने के लिए समस्या होती चली गई इसी समस्या का समाधान करने के लिए  दिल्ली को और भी बड़ा बनाने के लिए राज्य सरकार दिल्ली में ही कुछ आसपास के एरिया को ही जोड़ दिया जैसे कि यूपी,हरियाणा, फरीदाबाद, राजस्थान, बुलंदशहर और गाजियाबाद इत्यादि शहरों को दिल्ली से जोड़ दिया गया और इसी शहर में नोएडा को भी जोड़ दिया गया इसीलिए नोएडा शहर की स्थापना की गई हैं।

इसे भी जाने –

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में क्या अंतर है

जब आप दिल्ली में घूमने के लिए जाते हो तब आपको वहां पर नोएडा और ग्रेटर नोएडा देखने को मिलता है ऐसे में आपके मन में यह सवाल आता है कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा में क्या अंतर है नोएडा और ग्रेटर नोएडा की जानकारी हासिल करने के लिए हमने आपको नीचे कुछ बताया हुआ है जिसे आप पढ़ कर बहुत ही आसानी से समझ सकते हो।

  • अगर आप नोएडा घूमना चाहते हो तो आपको नोएडा दिल्ली के आस पास में हीं मिल जाता हैं।
  • वहीं अगर आप ग्रेटर नोएडा में घूमने के लिए जाते हो तो आपको दिल्ली से 30 मिनट लगता है ग्रेटर नोएडा जाने में।
  • ग्रेटर नोएडा मैं सड़के साफ-सुथरी और बिजली की सुविधा बहुत ही अच्छी मिलती है परंतु वही हम नोएडा की बात करें तो आपको नोएडा में सड़के साफ-सुथरी नहीं मिलती है लेकिन बिजली की सुविधा बहुत ही अच्छी मिलती है।
  • ग्रेटर नोएडा एक एजुकेशन, शॉप्स और बिजनेस से पॉपुलर है वही नोएडा को देखा जाए तो नोएडा फर्स्ट इंडस्ट्रियल एरिया है इसलिए नोएडा बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध हैं।
  • ग्रेटर नोएडा में आपको सड़क पर जितने भी आपकी नजर में बिल्डिंग दिखती है उसकी सिक्योरिटी के लिए वहां की बिल्डिंग मैनेजर कुछ गार्ड रखे हुए हैं।
  • नोएडा में आपको सड़कों पर बहुत ही ज्यादा भीड़ भाड़ मिलती है लेकिन आपको ग्रेटर नोएडा में सड़कों पर बहुत ही कम भीड़ देखने को मिल जाती है यानी कि आप ग्रेटर नोएडा में यातायात का पालन बहुत ही आसानी से कर सकते हो।
  • नोएडा में आपको मेट्रो सफर और इस्कॉन मंदिर के दर्शन भी हो सकती है परंतु आपको ग्रेटर नोएडा मैं ऐसे मंदिर देखने को नहीं मिलते हैं।
  • नोएडा में आपको कुछ फेमस स्कूल भी देखने को मिल जाते है जैसे नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, जेपी इंस्टिट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी इत्यादि चीज आपको नोएडा में देखने को मिल जाते है परंतु आप ग्रेटर नोएडा में छोटे-छोटे विद्यालय देखने को मिलते हैं।

NCR नोएडा का फुल फॉर्म

दोस्तों अभी तक आपने नोएडा के बारे में जानकारी हासिल की अब हम बात करते है कि एनसीआर का फुल फॉर्म क्या होता है एनसीआर का फुल फॉर्म नेशनल कैपेसिटी रिजाइन होता है एनसीआर में कुछ राज्य आते है जैसे बुलंदशहर और गाजियाबाद को एनसीआर से जोड़ा गया है और एनसीआर में ही गौतम बुद्ध का भी नगर आता है एनसीआर शहर को बनाने के लिए नोएडा शहर की स्थापना की गई इसीलिए हम इसी को एनसीआर नोएडा कहते हैं।

नोएडा कितने किलोमीटर का है

दोस्तों अगर आप नोएडा कितनी दूरी में फैला हुआ है इसकी जानकारी हासिल करना चाहते हो तो इसके लिए आप गूगल का सहारा ले सकते हो गूगल पर आप नोएडा की दूरी कितनी है यह सर्च करते हो तो आपको गूगल मानचित्र के अनुसार नोएडा की दूरी गूगल बता देगा और हम आपकी जानकारी के लिए यह बता दें कि नोएडा की दूरी लगभग 203 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है और आप इस तरीके से नोएडा की दूरी बहुत ही आसानी से पता कर सकते हो।

इसे भी पढ़े –

नोएडा का फुल फॉर्म? से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर

यहां पर हमने नोएडा के फुल फॉर्म से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ अन्य प्रश्नों के उत्तर दिए हुए हैं। 

Q. नोएडा में कुल कितनी कंपनियां हैं?

अगर नोएडा की कुल कंपनियां की बात की जाए तो नोएडा में लगभग 12 से कंपनियां उपस्थित हैं।

Q. उत्तर प्रदेश में कितने जिले हैं?

उत्तर प्रदेश में पूरे 75 जिले हैं।

Q. नोएडा का सबसे अमीर आदमी कौन हैं?

नोएडा का सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी जी है मुकेश अंबानी जी की 1 साल की संपत्ति 20 अरब डॉलर हैं।

Q. नोएडा का पिन नंबर क्या हैं?

नोएडा का पिन नंबर 201303 है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.