jansunwai portal par shikayat kaise kare |

यूपी जनसुनवाई पोर्टल क्या है jansunwai portal par shikayat kaise kare

 jansunwai.up.nic.in portal information: जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं, आज के समय में सभी प्रकार के कार्य डिजिटल रूप में किए जा रहे हैं। डिजिटल रूप में किए गए कार्य कम समय में एवं स्पष्टता पूर्ण रूप से होते हैं। उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने भी अपने प्रदेश के प्रत्येक जन निवासियों के हित के लिए अनेकों प्रकार की योजनाओं एवं अनेकों प्रकार की सुविधाओं को प्रदान करें पर जोर दे रही है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने प्रदेश के सभी निवासियों के इसके लिए एवं उनके लिए बेहतर कानून व्यवस्था निर्माण हेतु जनसुनवाई पोर्टल का शुभारंभ किया है। जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से आप घर बैठे ही किसी भी प्रकार की एवं किसी भी विभाग में अपनी शिकायत को आसानी से निशुल्क रूप में दर्ज कर सकते हैं। इस पोर्टल पर दर्ज की गई शिकायत को कम समय में एवं स्पष्ट रूप से हल किया जाता है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई इस पहल के बारे में यदि आप लोगों ने जानकारी हासिल नहीं की है, तो आज यह किसी जानकारी पर प्रस्तुत किया जा रहा है।आज हम अपने इस लेख के माध्यम से आप सभी लोगों को बताएंगे, कि जनसुनवाई पोर्टल क्या है ?, एवं इसमें अपनी शिकायत ऑनलाइन कैसे दर्ज कर सकते हैं ? । आज के हमारे जनसुनवाई पोर्टल पर आधारित इस लेख को आप सभी लोग अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर एक महत्वपूर्ण प्रकाश बिंदु : (important information about up jansunwai portal)

योजना का परिचययोजना का परिचय बिंदु
योजना का नामयूपी जनसुनवाई पोर्टल
इस पोर्टल की शुरुआत कब की गईवर्ष 2016 में
किसके द्वारा शुरू किया गयाउत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के कर कमलों के माध्यम से
कौन होगा पोर्टल का लाभार्थीउत्तर प्रदेश राज्य का प्रत्येक निवासी
पोर्टल का उद्देश्यराज्य के सभी प्रकार की शिकायत दर्ज कराने वाले व्यक्ति की शिकायत सुनना एवं उनका समय पर निवारण करना
पोर्टल लाभार्थी राज्यकेवल संपूर्ण उत्तर प्रदेश राज्य
पोर्टल का आधिकारिक लिंकhttp://jansunwai.up.nic.in/

यूपी जनसुनवाई पोर्टल क्या है ? (Information about up jansunwai portal in Hindi)

Information about up jansunwai portal in Hindi

Uttar Pradesh jansunwai portal legal information in Hindi: एक बेहतर कानून व्यवस्था की कामना लगभग सभी देश के एवं प्रदेश के निवासी चाहते हैं। हमारे देश में कानून व्यवस्था को लेकर पहले ही काफी ज्यादा विवादित मामले सामने आ चुके हैं। हमारे देश एवं प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर देशवासियों के मन में हमेशा से ही संदेह रहता है।

मगर उत्तर प्रदेश राज्य की सरकार ने अपने राज्य के प्रत्येक निवासियों के हित के लिए चाहे वह गरीब हो या फिर अमीर एक बेहतर कानून व्यवस्था को बनाने के लिए यूपी जनसुनवाई पोर्टल की शुरूआत की है।

इस पोर्टल के जरिए प्रदेश का कोई भी नागरिक किसी भी विभागीय एवं किसी भी प्रकार की अन्य समस्याओं का निवारण या शिकायत प्राप्त करने के लिए अपनी शिकायत को आसानी से निशुल्क रूप में ऑनलाइन दर्ज कर सकता है।

इस पोर्टल के लांच हो जाने के बाद से भ्रष्टाचार जैसे मामलों में भी काफी ज्यादा कमी आएगी। जिस किसी को भी अपनी शिकायत दर्ज करवानी होती थी वह बार-बार संबंधित विभागों के चक्कर काटता रहता था, परंतु उसे शिकायत का कोई भी सटीक निवारण उसे नहीं प्राप्त हो पाता था।

इसके अतिरिक्त एक गरीब व्यक्ति अपनी शिकायत को किसी भी उच्च विभागीय अधिकारी के सामने जाकर दर्ज नहीं करवा पाता था, क्योंकि उसे अपनी समस्याओं का निवारण प्राप्त करने में एवं शिकायत को दर्ज करवाने में काफी हिचकिचाहट होती थी।

उत्तर प्रदेश राज्य में पोर्टल की शुरूआत होने की वजह से अब सभी और देश के निवासी अपनी किसी भी प्रकार की शिकायत को बिना किसी हिचकिचाहट एवं डर के ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं।

इस पोर्टल के प्रारंभ होने के वजह से हम सभी प्रकार के कानूनी एवं विभागीय क्षेत्रों में शिकायतों की पारदर्शिता हो सकेगी और जिस भी व्यक्ति द्वारा किसी भी प्रकार की शिकायत दर्ज करवाई जाएगी, उस पर तुरंत की एक्शन लिया जा सकेगा।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल की विशेषताएं ? (Features of UP Jansunwai Portal )

Up jansunwai features information in Hindi: उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की तो बहुत विशेषताएं हैं, परंतु चलिए आप सभी लोगों को हम इस पोर्टल के कुछ मुख्य विशेषताओं के बारे में बताते हैं, जो इस प्रकार से निम्नलिखित है।

  • उत्तर प्रदेश राज्य सरकार में यूपी जनसुनवाई पोर्टल और एंड्राइड एप्लीकेशन की सुविधा दी है।
  • शिकायत दर्ज करने वाला व्यक्ति अपने मोबाइल ओटीपी के माध्यम से बड़ी ही आसानी से अपना पंजीकरण करवा सकता है।
  • राज्य के किसी भी प्रकार के शासकीय विभाग में शिकायत दर्ज करवाने की सुविधा प्रदान करता है।
  • यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर हम 24 घंटे एवं सातों दिन अपनी शिकायत को दर्ज कर सकते हैं।
  • शिकायत के बारे में ईमेल एवं s.m.s. के माध्यम से जानकारी प्रदान करने का विकल्प।
  • राज्य के सभी विभागीय एवं कानूनी क्षेत्र में पारदर्शिता रूप में समाज को स्थापित करने का कार्य करती है।
  • शिकायत की स्थिति देखने की सुविधा।
  • अनुस्मारक भेजने की सुविधा दी जाती है।
  • अपनी प्रतिक्रिया को दर्ज करने की सुविधा।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत को ऑनलाइन कैसे पंजीकृत कर सकते हैं ? (How to register your ticket online on up Jansunwai portal)

How to register complaint on up jansunwai portal online in Hindi: यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी हैं और आप किसी भी प्रकार की अपनी शिकायत को यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकृत करना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको इसके लिए अपना ऑनलाइन पंजीकरण करना होगा। पहले जानते हैं, कि आप अपना यूपी जनसुनवाई पोर्टल में किस प्रकार की शिकायत दर्ज करने हेतु अपना पंजीकरण कर सकते हैं ? ।

  • Step 1 . यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर अपना शिकायत पंजीकरण करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • Step 2 . आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर जाने के बाद आपको “शिकायत दर्ज” करें नामक एक विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • Step 3 . यहां पर आपको कुछ विवरण दिखाई देंगे, जिसमें बताया जाएगा कि किन-किन श्रेणियां की शिकायत को दर्ज या फिर स्वीकार नहीं किया जा सकता।
  • Step 4. अब आगे आपको शिकायत दर्ज करने हेतु एक सहमति बॉक्स दिखाई देगा, इस पर आपको क्लिक करके अपना एप्लीकेशन “सबमिट करें” नामक विकल्प पर क्लिक करके सबमिट करना है।
  • Step 5 . अब आगे आपको अपनी ऑनलाइन शिकायत को दर्ज करने के लिए ईमेल आईडी एवं मोबाइल नंबर को डालना होगा।इसके बाद आपको कैप्चा कोड डालकर “सबमिट” नामक विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • Step 6 . अब आपको अपना मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी वेरीफाई करना होगा, इसके लिए आपको एक ओटीपी भेजा जाएगा।ओटीपी दर्ज करने के बाद आपका मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी आसानी से वेरीफाई हो जाएगा।
  • Step 7 . अब इसके बाद आपके सामने जनसुनवाई पोर्टल में शिकायत दर्ज करने हेतु एक फॉर्म खुलकर आएगा। इस फॉर्म के अंदर आपको अपनी जानकारियों को सही सही तरीके से भरना होगा।
  • Step 8 . शिकायत से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को दर्ज करने के बाद आपको “सम्मिट शिकायत” नमक विकल्प पर क्लिक करके अपनी शिकायत को सबमिट कर देना है।ध्यान दें :- शिकायत सबमिट करने के बाद आपको आपकी शिकायत का एक पंजीकरण नंबर दिया जाता है। अपने शिकायत के पंजीकरण नंबर को एक सुरक्षित स्थान पर रख ले, यह आगे आपको किसी भी प्रकार की कार्यवाही में सहायता कर सकता है।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर मोबाइल के माध्यम से शिकायत कैसे दर्ज करें ? (How to register a complaint through mobile on Jansunwai portal)

jansunwai portal par shikayajansunwai portal par shikayat online kaise karet online kaise kare
jansunwai portal par shikayat online kaise kare using smartphone in Hindi: आप अपने स्मार्टफोन के माध्यम से भी यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत को ऑनलाइन दर्ज कर सकते हैं। जो प्रक्रिया आपने पीसी या फिर लैपटॉप के माध्यम से शिकायत दर्ज करने के लिए किया है, इसी प्रक्रिया के जरिए आप अपने मोबाइल फोन में एंड्रॉयड एप्लीकेशन को इंस्टॉल कर के भी यूपी जन सुनवाई योजना में अपनी शिकायत को दर्ज कर सकते हैं।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर हम किन प्रकार की शिकायत को दर्ज कर सकते हैं ? (What types of complaints can we file on the UP Jansunwai portal )

Complaint file information in up jansunwai portal: यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर लगभग अपनी सभी समस्याओं को दर्ज कर सकते हैं, चलिए जानते हैं, कि यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर किन समस्याओं को दर्ज किया जा सकता है ? ।

  • सभी प्रकार की शासन की योजनाओं के बारे में जानकारी हासिल करने की सुविधा।
  • कोई भी व्यक्ति जनसाधारण समस्याओं से जुड़ी हुई शिकायत को यहां पर आसानी से दर्ज कर सकता है।
  • आम जनता की मांगों से जुड़ी हुई शिकायतों को दर्ज किया जा सकता है।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर किन-किन शिकायतों को स्वीकार नहीं किया जाता है ? (What kind of complaints are not accepted on the UP Jansunwai portal)

Which type of complaint are not allowed on up jansunwai portal in Hindi: अब मन में सवाल उठता है कि हम किन-किन प्रकार की शिकायतों को यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर दर्ज नहीं कर सकते ? या फिर यह पोर्टल किन-किन प्रकार की शिकायतों को स्वीकार नहीं करता है ? ।

  • सूचना अधिकार से संबंधित किसी भी प्रकार के जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत को स्वीकार नहीं किया जाता है।
  • माo न्यायालय में विचाराधीन प्रकरण को यहां पर स्वीकार नहीं किया जाएगा।
  • आर्थिक सहायता या फिर नौकरी से संबंधित किसी भी प्रकार की शिकायतों को यहां पर स्वीकार नहीं किया जाता है।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत की स्थिति की जांच कैसे कर सकते हैं ? (How to check the status of the complaint on the UP Jansunwai portal)

Complaint status check information on up jansunwai portal in Hindi: आपने यदि यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर किसी भी प्रकार की शिकायत को दर्ज किया है और आप अपने शिकायत की स्थिति की जांच करना चाहते हैं, तो इसके लिए आप क्या करेंगे, चलिए आगे इस विषय पर जानकारी जानते हैं।यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत की स्थिति की जांच करने के लिए नीचे बताए, गए आसान स्टेप का अनुसरण करें।

  • Step 1 . अपनी शिकायत की स्थिति की जांच करने के लिए सबसे पहले आपको यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • Step 2 .यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको “ट्रेक कंप्लेंट” स्टेटस नामक एक विकल्प दिखाई देगा, इस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • Step 3 . अब इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा यहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी दर्ज करना होगा।
  • Step 4 . मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी डांस करने के बाद आपको सिक्योरिटी पिन डालना है, इसके बाद आपको “सम्मिट” के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • Step 5 . इसके बाद अपने शिकायत पंजीकरण का नंबर दर्ज करना है, उसके बाद आप आसानी से अपनी शिकायत की स्थिति की जांच कर सकते हैं।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर की गई शिकायत का निवारण ना मिलने पर क्या करें ? (What can be done if the complaint filed on the UP Jansunwai portal is not received redressal )

Up jansunwai portal using information in Hindi: यदि आपके द्वारा दर्ज की गई शिकायत पर किसी भी प्रकार का एक हफ्ते के अंदर-अंदर एक्शन नहीं लिया जा रहा है, तो ऐसी परिस्थिति में आप इस पोर्टल का इस्तेमाल करके उन्हें रिमाइंडर यानी कि अनुस्मारक भेज सकते हैं। यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर अनुस्मारक करने के लिए क्या करें ? , इसके लिए हमारे द्वारा बताए गए आसान स्टेप को फॉलो करें।

  • Step 1 . अनुस्मारक के आने के रिमाइंडर भेजने के लिए आपको सबसे पहले यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • Step 2 . आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको वहां पर “अनुस्मारक भेजे” नामक एक विकल्प दिखाई देगा, इस पर आपको क्लिक करना है।
  • Step 3 . लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खोलकर आ जाएगा।
  • Step 4 . अब यहां पर आपको अपनी शिकायत संख्या को दर्ज करना होगा। शिकायत संख्या को दर्ज करने के बाद “खोजे” नामक विकल्प पर क्लिक करना है।
  • Step 5 . अब यहां पर आपकी शिकायत दिखाई देगी, अब अपने शिकायत पर आप संबंधित विभाग को अनुस्मारक यानि के लिए रिमाइंडर भेज सकते हैं।

जनसुनवाई पोर्टल पर फीडबैक ऑप्शन का इस्तेमाल क्यों और कैसे करें ? (Why and how you can use the feedback option on Jansunwai portal)

How to use feedback option on jansunwai portal in Hindi: कई बार ऐसा होता है, कि हमारी शिकायत का तो निवारण यहां पर कर दिया जाता है, परंतु हम किए गए उस निवारण से संतुष्ट नहीं रहते। ऐसे में हम जनसुनवाई पोर्टल पर फीडबैक के विकल्प का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इस विकल्प का इस्तेमाल करके हम बता सकते हैं, कि हमारे समस्या का समाधान असंतुष्ट पूर्ण रूप से किया गया है। अब सवाल उठता है, कि जनसुनवाई पोर्टल पर फीडबैक विकल्प का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है ?, इसके लिए हमारे द्वारा बताए गए आसान स्टेप को फॉलो करें ? ।

  • Step 1 . जनसुनवाई पोर्टल पर अपना फीडबैक देने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • Step 2 . आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपको यहां पर एक “फीडबैक” नामक विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आप को क्लिक करके एक नया पेज ओपन कर लेना।
  • Step 3 . अब यहां पर आपको पूछी जा रही जानकारियों को भरना है, इसके अतिरिक्त यहां पर आप अपना फीडबैक भी समस्या के निवारण से संबंधित दर्ज कर सकते हैं ।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल के मोबाइल एप्लीकेशन को अपने मोबाइल में कैसे इनस्टॉल करें ? ( How to install UP Jansunwai Mobile Application)

Best tips for install up jansunwai mobile application on mobile phone in Hindi: आप यूपी जनसुनवाई पोर्टल के साथ-साथ इसके एंड्रॉयड एप्लीकेशन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यूपी जनसुनवाई एंड्राइड एप्लीकेशन में वे सभी सुविधाएं आपको मिल जाएंगे, जो आपको आधिकारिक पोर्टल पर मिलती है।

यूपी जनसुनवाई मोबाइल एप्लीकेशन को इंस्टॉल करने के लिए आप अपने मोबाइल में गूगल प्ले स्टोर को ओपन कर ले और वहां पर सर्च बॉक्स में यूपी जनसुनवाई लिखकर सर्च कर दें।

सर्च करने के बाद आपके सामने अधिकारी एंड्राइड एप्लीकेशन आ जाएगा, अब आप इस एप्लीकेशन को अपने फोन में इंस्टॉल कर सकते हैं।इंस्टॉल करने के बाद अब आप अपनी शिकायत को एंड्रॉयड एप्लीकेशन के जरिए भी कर सकते हैं।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल के क्या-क्या लाभ हो सकते हैं ? (Up jansunwai portal benefit in Hindi)

What kind of benefit using up jansunwai portal in Hindi: यूपी जनसुनवाई पोर्टल के अनेकों फायदे हैं, चलिए उनमें से कुछ के लाभों का वर्णन इस प्रकार से करते हैं।

  • जनसुनवाई पोर्टल का इस्तेमाल करके आप उत्तर प्रदेश का प्रत्येक नागरिक बिना किसी संबंधित विभाग के चक्कर लगाए अपनी शिकायत को केवल ऑनलाइन वह भी निशुल्क रूप में दर्ज कर सकेगा।
  • यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर दर्ज की गई शिकायत का जल्द से जल्द निवारण किया जाता है।
  • इस पोर्टल की शुरूआत होने से अब ऐसे चित्र में भ्रष्टाचार जैसे बुरे कामों को भी रोका जा सकता है।
  • शिकायत दर्ज करने के बाद मूल रूप से उसकी जांच की जाती है और जब जिसके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है, वह दोषी पाया जाता है, तो उसे कड़ी से कड़ी सजा दी जाती है।
  • अब लाचार व्यक्ति भी घर बैठे अपनी शिकायत को दर्ज कर सकेगा और बदले में अपनी समस्या का निवारण पा सकेगा।
  • इस पोर्टल पर छोटे से छोटा एवं बड़ा से बड़ा व्यक्ति अपनी शिकायत को दर्ज करने के लिए अधिकारी है।
  • उत्तर प्रदेश राज्य के इस पहल से अब कानून के प्रति लोगों का विश्वास और भी ज्यादा हो सकेगा।
  • इस पोर्टल का इस्तेमाल करके हर कोई बिना झिझक के अपनी शिकायत पर दर्ज कर सकेगा।

निष्कर्ष :-

हमें उम्मीद है, कि आप सभी लोगों को यूपी जनसुनवाई पोर्टल क्या है ? एवं यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत को ऑनलाइन कैसे पंजीकृत करें ?, यह लेख पसंद आया होगा। आप इस लेख से संबंधित अपने कोई सुझाव या विचार हमसे व्यक्त करना चाहते हैं, तो आप कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल करें।

FAQs :

  1. प्रश्न: उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की शुरूआत किसने की है ? (Who started the Uttar Pradesh Jansunwai Portal)

    उत्तर :- उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल की शुरूआत माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने की है।
  2. प्रश्न: क्या हम उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर निशुल्क रूप में अपनी शिकायत को दर्ज कर सकते ? (What complaint is filed free on Uttar Pradesh Jansunwai portal)

    उत्तर :- जी बिल्कुल उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर निशुल्क रूप में शिकायतों को दर्ज किया जाता है।
  3. प्रश्न: उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर क्या किसी भी प्रदेश का व्यक्ति अपनी शिकायत दर्ज कर सकता है ? (Can a person from any other state file a complaint on Jansunwai portal)

    उत्तर :- इस पोर्टल पर केवल उत्तर प्रदेश का नागरिक ही अपनी शिकायत को दर्ज कर सकता है, ना की किसी अन्य प्रदेश का कोई नागरिक।
  4. प्रश्न : उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत को कैसे दर्ज कर सकते हैं ? (How to file your complaint on Uttar Pradesh Jansunwai portal)

    उत्तर :- उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत को दर्ज करने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है, इसके लिए हमारे द्वारा लिखे गए इस लेख को शुरू से अंत तक पढ़े।

UP FIR Online Status kaise check kare 1 minute mai

UP Khasra Online kaise dekhe 2020

Leave a Comment