internet ko hindi mein kya kahate hain

इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि internet ko hindi mein kya kahate hain। आज के इस युग में इंटरनेट का उपयोग बहुत ही ज्यादा हो रहा है। लगभग सभी लोग इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं और इंटरनेट के माध्यम से कई कामों को भी कर रहे हैं। 

इंटरनेट एक अंग्रेजी शब्द है। ज्यादातर लोग यह नहीं जानते हैं कि । तो अगर आप भी नहीं जानते हैं तो आप इस वक्त बिल्कुल सही जगह पर है। 

इंटरनेट क्या है 

अगर आप जानना चाहते हैं कि internet ko hindi mein kya kahate hain तो इससे पहले आपको यह जानना बेहद जरूरी है कि इंटरनेट क्या है?  

अगर सरल भाषा में इंटरनेट के बारे में समझा जाए तो इंटरनेट एक तरह का सरवर है जिस पर पूरी दुनिया एक साथ जुड़ी हुई है। इंटरनेट के माध्यम से दुनिया के किसी एक कोने से दुनिया के किसी दूसरे कोने में आसानी से अपनी बातों का आदान-प्रदान कर सकते हैं। 

इंटरनेट किसी एक कंपनी का या फिर किसी एक देश का अपना पर्सनल नहीं होता है। बल्कि इंटरनेट पूरी दुनिया को एक साथ जोड़ने का काम करता है। इंटरनेट के माध्यम से जितने भी कंप्यूटर जुड़े होते हैं वह सारे आपस में एक केवल के माध्यम से जुड़े होते हैं। 

इंटरनेट को 1960 में अमेरिका के एक व्यक्ति द्वारा शुरू किया गया था। शुरुआती दौर में इंटरनेट सिर्फ उस व्यक्ति के घर में ही चलता था। लेकिन धीरे-धीरे इसकी प्रसिद्धि बढ़ती गई और आज इंटरनेट का इस्तेमाल पूरी दुनिया के लोग करते हैं। 

हम अपने स्मार्टफोन में जीमेल, व्हाट्सएप, फेसबुक के अलावा और भी कई सारे ऐप का इस्तेमाल करते हैं। यह सारे ऐप इंटरनेट के माध्यम से जुड़े हुए हैं तभी हम इसका इस्तेमाल कर पाते हैं। अगर इन सारे ऐप को इंटरनेट से हटा दिया जाए तो हम इनका इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं। 

आप इससे समझ सकते हैं कि आज हमारे बीच इंटरनेट का क्या महत्व है। अगर इंटरनेट हमारे बीच नहीं रहता है तो हम अपने स्मार्टफोन में कई सारे काम नहीं कर पाएंगे। क्योंकि हमारे स्मार्टफोन में जितनी भी चीजें उपलब्ध है उसमें से आधी से ज्यादा चीजें इंटरनेट के माध्यम से चलती है। 

इसे भी जाने – Internet in Hindi – इंटरनेट क्या है

internet ko hindi mein kya kahate hain

क्योंकि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि इंटरनेट एक अंग्रेजी शब्द है। तो आप आपके मन में यह सवाल जरूर चल रहा होगा कि आखिर internet ko hindi mein kya kahate hain। 

तो हम आपको बता दें कि इंटरनेट को हिंदी में अंतरजाल कहते हैं। अंतरजाल का शाब्दिक अर्थ यह हुआ कि एक ऐसा जाल जिसके अंदर पूरी दुनिया समाई हुई है और इस जाल के माध्यम से हम अपने घर बैठे दुनिया की किसी भी जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं। या फिर दुनिया के किसी भी व्यक्ति से संपर्क कर सकते हैं। 

अंतरजाल शब्द इंद्रजाल शब्द से लिया गया है। ऐसा माना जाता है कि इंद्रजाल यानी कि इंद्रधनुष का प्रभाव पूरी दुनिया में रहता है। इसके जैसे ही इंटरनेट का प्रभाव भी पूरी दुनिया में है। इसलिए इंद्रजाल की जगह पर अंतरजाल शब्द को बनाया गया और भारत में इंटरनेट को हिंदी में अंतरजाल कहा जाता है। 

भारत में इंटरनेट की शुरुआत कब हुई 

भारत में इंटरनेट की शुरुआत 14 अगस्त 1995 को हुई थी। 14 अगस्त की रात में इंटरनेट का इस्तेमाल भारत में सफलतापूर्वक हुआ था। जिसके बाद 15 अगस्त 1995 से भारत में इंटरनेट का उपयोग होना शुरू हो गया। 

शुरुआती दौर में इंटरनेट की स्पीड भारत में बहुत ही कम रहती थी। उस समय भारत में इंटरनेट की स्पीड 10 केबीपीएस की रहती थी। इसके कारण इंटरनेट बहुत ही स्लो चलता था और कोई भी काम बहुत धीरे हो पाता था। 

जब भारत में शुरुआती समय में इंटरनेट का इस्तेमाल किया जाता था। तो उस समय मात्र भारत के 20 से 30 कंप्यूटर इंटरनेट से जुड़े हुए थे। उस समय भारत में बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारियों को इंटरनेट पर आदान प्रदान किया जाता था। इसके अलावा कुछ बड़े-बड़े कॉलेजों में इंटरनेट का इस्तेमाल होता था। 

लेकिन अब भारत के हर कोने में लोग इंटरनेट का इस्तेमाल बहुत ही ज्यादा मात्रा में कर रहे हैं और आज लगभग भारत के सभी कंप्यूटर और स्मार्टफोन इंटरनेट से जुड़े हुए हैं। भारत में पहले जहां 10 केबीपीएस की स्पीड से नेट चलता था वही आज भारत में 6 एमबी पर सेकंड के स्पीड से इंटरनेट चलता है। 

हालांकि ये स्पीड सभी राज्यों के सभी जगहों के लिए समान नहीं होती है। अभी भी भारत में कई ऐसे जगह है जहां पर इंटरनेट काफी धीरे चलता है। लेकिन एक सर्वे के तहत यह पता चला है कि भारत में एवरेज स्पीड 6 एमबीपीएस की है। 

सबसे तेज इंटरनेट चलने वाले देशों की सूची में भारत 117वा नंबर पर है। यानी कि अभी भी 116 ऐसे देश है जहां की एवरेज नेट स्पीड भारत के नेट स्पीड से ज्यादा है। भारत दिन प्रतिदिन नेट स्पीड बढ़ाने में लगा हुआ है और उम्मीद है कि बहुत जल्द हम लोग की सूची में और आगे बढ़ेंगे। 

इसे भी जाने – Data in hindi – डाटा का मतलब क्या होता है |

निष्कर्ष 

दोस्तों आज के इस लेख के माध्यम से हमने यह जाना है कि internet ko hindi mein kya kahate hain हमने यह जानकारी आपको इसलिए दी क्योंकि ज्यादातर लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं। इसके अलावा हमने इस आर्टिकल में यह भी जाने कि इंटरनेट क्या होता है और इंटरनेट भारत में कब पहली बार इस्तेमाल हुआ था? उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे यह आर्टिकल पसंद आया होगा और हमने इस आर्टिकल में जो भी जानकारी दी है वह आपको अच्छे से समझ में आ गई होगी। 

तो अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा और इसमें दी गई सारी जानकारी समझ में आ गई तो आप इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों और अपने सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले। आप इस आर्टिकल से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट करके पूछ सकते हैं। 

Leave a Comment