GDS Kya Hai

दोस्तों जिस प्रकार से आईपीएस, आईएएस आदि का शॉर्ट फॉर्म होता है ठीक उसी प्रकार से लोग GDS Kya Hai? के बारे में जानना चाहते है। यदि आप भी जीडीएस के बारे में जानना चाहते हो और जीडीएस बनना चाहते हो तो आज के इस महत्वपूर्ण लेख को शुरुआत से लेकर अंतिम तक जरूर पढ़ें। हमने अपने आज के इस लेख में पीरियड से संबंधित लगभग सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में बताया हुआ है। 

और आपके लिए हमारा यह लेख काफी उपयोगी और सहायक साबित हो सकता है। यही कारण है कि हम चाहते है आप हमारे आज के इस लेख को शुरुआत से लेकर अंतिम तक जरूर पढ़ें ताकि आपको आज इस विषय पर जानकारी विस्तार से समझ में आए और आपको इसी जानकारी को पढ़ने के लिए कहीं और इधर उधर भटकने की एवं अपना समय व्यर्थ करने की जरूरत बिल्कुल भी ना हो।

जीडीएस क्या है

ग्रामीण डाक सेवा एक ऐसी सर्विस है जिसके जरिए ग्रामीण इलाकों में डाक विभाग से संबंधित सभी सुविधाओं को प्रदान किया जाता है। ग्रामीण डाक सेवा के अंतर्गत डाकिया का काम करना होता है और डाकिया का काम क्या होता है इसके बारे में आप लोगों को भलीभांति जानकारी होगी। इसी को जीडीएस कहा जाता है। 

भारतीय ग्रामीण डाक सेवा के अंतर्गत हम अनेकों प्रकार की सुविधाओं का लाभ ले सकते है जैसे कि डाक संबंधित सभी योजनाओं का लाभ, डाक विभाग से संबंधित सूचना और वस्तुओं का आदान प्रदान और भी बहुत सारी सुविधाओं का लाभ हम जीडीएस के जरिए ले सकते है। 

जीडीएस के अंतर्गत सभी सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए आपको अपने नजदीकी जीडीएस ऑफिस में जाना होगा और आप उनकी दी जाने वाली सुविधाओं में से अपने आवश्यकता अनुसार किसी भी सर्विस का लाभ उठा सकते हैं।

जीडीएस फुल फॉर्म

अब आप लोगों के मन में सवाल उठ रहा होगा कि आखिर जीडीएस का फुल फॉर्म क्या है? तो हम आपको बता दें कि जीडीएस का फुल फॉर्म ग्रामीण डाक सेवक होता है जिसे हम सामान्य भाषा में डाकिया कहते हैं।

ग्रामीण डाक सेवक यानी डाकिया सूचनाओं का आदान प्रदान करने के साथ-साथ हमारी कई सारे कार्यों को कराने में हमारी सहायता करता है। ग्रामीण डाक सेवक सरकारी सुविधाओं का लाभ जरूरतमंदों को दिलाने में भी अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जीडीएस का पद बहुत ही सम्माननीय पद होता है परंतु इस पद में काम करने वाले व्यक्ति को ज्यादातर दौड़ भाग करना पड़ता है।

इसे भी पढ़े –

जीडीएस कैसे बने

जीडीएस बनने के लिए आपको अधिसूचना पर अपनी नजर बनाए रखनी है और जब भर्ती निकले तब आप इसके लिए अपना आवेदन करें। हाई स्कूल की मेरिट आधार पर ही उम्मीदवारों का चयन किया जाता है और जीडीएस अधिकारी बनाया जाता है।

चलिए आप हम आप सभी लोगों को आगे जीडीएस कैसे बने? के बारे में थोड़ी और विस्तृत जानकारी प्रदान करते है। इसके लिए आप नीचे दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ें तभी आपको जीडीएस बनने से संबंधित आवश्यक जानकारी समझ में आएगी और आप इस पद पर काम कर पाओगे।

हाई स्कूल पास करें

जीडीएस ऑफिसर बनने के लिए कम से कम मिनिमम योग्यता उम्मीदवार को हाई स्कूल में अच्छा प्रतिशत प्राप्त करना जरूरी है और आपको किसी एफिलिएटिड माध्यमिक विद्यालय से हाई स्कूल पास करना जरूरी है। 

अधिसूचना पर नजर बनाए रखें

दोस्तों यदि आपको जी डी एस ऑफिसर बनना है तो सबसे पहले अपनी नजर आपको अधिसूचना पर बनाए रखनी है। सरकार समय-समय पर जीडीएस पद के लिए भर्ती निकलती रहती है और जब भर्ती निकले तब आप अपना आवेदन जरूर करें।

आवेदन फॉर्म भरे 

जब भी जीडीएस के लिए भर्ती निकाली जाए तब आप सबसे पहले ऑनलाइन इसके लिए अपना आवेदन फॉर्म जरूर भरें। आप चाहो तो खुद अपने मोबाइल या फिर लैपटॉप का इस्तेमाल करके घर बैठे ही इस भर्ती के लिए अपना ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो और अगर आप खुद से आवेदन फॉर्म भरना नहीं चाहते हो तो आप अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र में जाकर या फिर जहां पर भी ऑनलाइन फॉर्म भरने का काम किया जाता है वहां पर अपना आवेदन फॉर्म जरूर भरवाए। आवेदन फॉर्म भरने के दौरान आप अपने सभी आवश्यक दस्तावेज साथ में रखें यह आपके काम में आएंगे।

मेरिट चेक की जाएगी

जीडीएस की भर्ती को पूरा करने के लिए मेरिट आधार पर सलेक्शन किया जाता है। जैसा कि आप अपना आवेदन फॉर्म भर दोगे और इसकी अंतिम तिथि समाप्त हो जाएगी वैसे ही जिन जिन लोगों ने इसके लिए अपना आवेदन फॉर्म भरा है उन सभी लोगों की मेरिट लिस्ट चेक की जाएगी। जिन लोगों का अच्छा मेरिट होगा और वह अच्छे प्रतिशत के साथ हाईस्कूल क्लियर किए होंगे उनका सिलेक्शन किया जाएगा।

इंटरव्यू क्लियर करें

जिन लोगों का मेरी तरह पर सिलेक्शन होगा उन्हें अब आगे की प्रोसेस में इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा। यदि आप इंटरव्यू क्लियर कर लेते हो तो आपको जीडीएस पद की नौकरी इंटरव्यू देने के पश्चात प्रदान की जाती है परंतु इससे पहले आपका 1 या 2 महीने ट्रेनिंग होगा।

ट्रेनिंग कंप्लीट करें 

अब आपको जितने भी दिन ट्रेनिंग देने के लिए कहा जाएगा आप इतने दिन अपनी ट्रेनिंग को कंप्लीट करें। जैसे ही आप की ट्रेनिंग कंप्लीट हो जाएगी वैसे ही आप की पोस्टिंग कर दी जाएगी और आप जीडीएस पद पर नौकरी प्राप्त करके काम करना शुरु कर दोगे। 

लो जीडीएस बन गए

आप जैसे ही अपनी ट्रेनिंग वगैरह कंप्लीट कर लेते हो आप जीडीएस पद पर ऑफिसर के तौर पर काम करना शुरू कर सकते हो और अब आपको कुछ भी करने की जरूरत नहीं है हर महीने काम करें और अपनी सैलरी प्राप्त करें। 

जीडीएस के लिए सिलेबस 

हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसमें कोई भी कंपीटेटिव एग्जाम क्लियर करने की जरूरत नहीं होती है अर्थात आपको इसमें कोई भी सिलेबस की जरूरत नहीं होगी। बशर्ते आपका हाई स्कूल में अच्छा परसेंटेज आना जरूरी है। आप हाई स्कूल में उन्हीं सब्जेक्ट को सेलेक्ट करें जिन्हें पढ़ने में आपकी रुचि है और आप उन सब्जेक्ट में स्ट्रांग हो। यदि आप अपने इंटरेस्ट के अनुसार हाई स्कूल में सब्जेक्ट को चुनोगे तो आपका परसेंटेज अच्छा आएगा और इस नौकरी को प्राप्त करने के लिए आप की अच्छी मेरिट भी बन जाएगी।

जीडीएस की तैयारी कैसे करें

दोस्तों अगर आप जीडीएस ऑफिसर बनना चाहते हो तो आपको सबसे पहले इसकी तैयारी करनी जरूरी है और अब हम चलिए आप सभी लोगों को आगे जीडीएस की तैयारी कैसे की जा सकती है इसके बारे में जानकारी देते है और आप इसके लिए नीचे दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक से जरूर पढ़ें।

  • कक्षा 9वी से ही अपने फेवरेट सब्जेक्ट का चुनाव करें ताकि आप नौवीं और दसवीं में अच्छा प्रतिशत प्राप्त कर सको और आपकी मेरी अच्छी बन सके।
  • जीडीएस के पद पर काम करने से पहले आपको मेरिट लिस्ट से होकर गुजर ना होता है और इसीलिए आप अपने पढ़ाई के शेड्यूल को मेंटेन रखें और ज्यादा से ज्यादा समय तक पढ़े ताकि आप का हाई स्कूल में अच्छा प्रतिशत आ सके। 
  • अगर संभव हो तो आज स्कूल में कोचिंग जरूर करें ताकि अगर आपके मन में किसी भी सब्जेक्ट को लेकर कोई भी डाउट हो तो आप कोचिंग में जा कर के अपने सब्जेक्ट को मजबूत कर सके और अपने डाउट को क्लियर कर सकें।
  • जीडीएस की समय-समय पर भर्ती निकाली जाती है अर्थात आपको अपनी नजर अधिसूचना पर भी बना कर रखना जरूरी है जैसे ही इसकी भर्ती आए वैसे ही बिना विलंब किए आप अपना आवेदन फॉर्म जरूर भरें।
  • इंटरव्यू देने की प्रैक्टिस करते रहें क्योंकि जब आपका सिलेक्शन मेरिट आधार पर कंप्लीट हो जाता है तब आपको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है और अगर आप इंटरव्यू में फेल हो जाओगे तो आपको नौकरी नहीं मिल सकती इसीलिए इंटरव्यू देने की प्रैक्टिस करते रहे और सामान्य ज्ञान की जानकारी भी जरूर पढ़ें।
  • अपने हाई स्कूल में जो भी सब्जेक्ट लिया है आप उसकी तैयारी अच्छे से करें ताकि अगर इंटरव्यू में आपके सब्जेक्ट में से कोई प्रश्न पूछा जाए तो आप उसका छठ से उत्तर दे सको।
  • बात करने में बिल्कुल भी घबराने की कोशिश ना करें आप पूरे कॉन्फिडेंस के साथ बात करें और इंटरव्यू पूरा करें।

जीडीएस के लिए एज

दोस्तों जिस प्रकार से अन्य नौकरियों के लिए एज का फाउंडेशन रहता है ठीक उसी प्रकार से आपको इस नौकरी के लिए भी एज का फाउंडेशन देखना जरूरी है और इसके लिए आप नीचे दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पर जरूर पढ़ें।

  • ग्रामीण डाक सेवक बनने के लिए आपकी उम्र न्यूनतम 18 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होना चाहिए।
  • इसके अलावा आरक्षित वर्ग ST/SC और OBC के उम्मीदवार को सरकार के तरफ से आयु सीमा में कुछ छूट प्रदान की जाती है।

जीडीएस का एग्जाम कैसे होता है 

दोस्तों हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जीडीएस के पद की रिक्ति को पूरा करने के लिए किसी भी प्रकार का एंट्रेंस एग्जाम या फिर कंपीटेटिव एग्जाम देने की जरूरत नहीं होती है। अगर आपने हाई स्कूल में अच्छा परसेंटेज प्राप्त किया है तो आप की मेरिट आधार पर यहां पर सिलेक्शन प्रक्रिया पूरी होगी और अगर आप की मेरिट अच्छी होगी तो आपको इंटरव्यू में बुलाया जाएगा और अगर आपने इंटरव्यू क्लियर कर लिया तो इसके बाद थोड़े समय की ट्रेनिंग पूरा करते ही आपको सीधे पद पर काम करने की अनुमति मिल जाती है और आप जी डी एस ऑफिसर के तौर पर काम करना शुरू कर सकते हो।

जीडीएस की सैलरी

किसी भी पद पर नौकरी करने से पहले उम्मीदवार को यह जानना जरूरी होता है कि वह अगर इस पद पर काम करता है तो उसे हर महीने कितनी सैलरी प्राप्त होगी। हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जैसे ही आप जीडीएस पद पर नौकरी करना शुरू करते हो वैसे ही आपकी तनख्वाह हर महीने ₹10000 से लेकर ₹14500 के बीच की हो जाती है

अगर आगे चलकर आपने अपना पद अपडेट किया यानी कि किसी भी पढ़ाई को करके या फिर कंपटीशन एग्जाम को दिया तो आपकी सैलरी कई गुना ज्यादा भी हो सकती है और अगर आप इसी पद पर रहकर काम करते हो तो सरकार आगे चलकर आपकी तनख्वाह ₹18000 से लेकर ₹20000 तक की भी कर सकती है और इस पद पर कार्य करने वाले उम्मीदवारों की तनखा लगभग कुछ समय में बढ़ती ही रहती है।

इसे भी जाने –

जीडीएस क्या है? से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर

यहां पर हमने जीडीएस क्या है? से संबंधित आप लोगों द्वारा पूछे जाने वाले कई अन्य महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर दिए हुए हैं।

Q. क्या जीडीएस एक स्थाई नौकरी है?

जीडीएस पदों पर नियुक्ति नियमित रिक्त पदों के रूप में की जाती है, इसलिए ये स्थायी पद हैं।

Q. जीडीएस के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

जीडीएस के लिए उम्मीदवार की उम्र 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष के बीच में होनी चाहिए और साथ ही साथ उम्मीदवार कम से कम हाई स्कूल में अच्छे परसेंटेज के साथ पास होना जरूरी है।

Q. पोस्ट मास्टर बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

पोस्ट मास्टर बनने के लिए उम्मीदवार को 10वीं और 12वीं में अच्छा प्रतिशत प्राप्त करना जरूरी है तभी वह पोस्ट मास्टर की चौक कर सकता है।

निष्कर्ष

हमने आज के इस लेख में आप सभी लोगों को GDS Kya Hai के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की हुई है और हमें उम्मीद है कि हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आप लोगों के लिए काफी उपयोगी साबित हुई होगी।

अगर आप लोगों को जीडीएस कैसे बने? से संबंधित प्रस्तुत किया गया हमारा यह लेख पसंद आया हो या फिर आप के लिए जरा सा भी उपयोगी साबित हुआ हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप के जरिए अन्य लोगों को भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में पता चल सके और उन्हें आगे ऐसा ही कैरियर संबंधित एवं अन्य मनी मेकिंग से संबंधित महत्वपूर्ण लेख को पढ़ने के लिए कहीं और बार-बार भटकने की बिल्कुल भी आवश्यकता ना हो।

यदि आपके मन में हमारे आज के इस लेख से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे और हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को शुरुआत से लेकर अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका कीमती समय शुभ हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.