email address kya hota hai

आज के समय में शायद ही ऐसा कोई होगा email address kya hota hai के बारे में पता ना हो। हमें इंटरनेट की मदद से किसी भी प्रकार का ऐप चलाना हो या किसी जानकारी को गुप्त रूप से किसी के साथ साझा करना हो तो सबसे पहला विचार जो हमारे मन में आता है वह ईमेल एड्रेस का होता है। मगर क्या आपके मन में कभी विचार आया है कि ईमेल एड्रेस के बारे आज हम आपको इसी बात की विस्तार पूर्वक जानकारी देने जा रहे हैं।

सरल भाषा में कहें तो आप गूगल का क्रोम, यूट्यूब, या प्ले स्टोर चलाने के लिए एक ईमेल एड्रेस का इस्तेमाल करते है। साथ ही किसी भी नए एप्लीकेशन या वेबसाइट पर रजिस्टर करने के लिए आप ईमेल एड्रेस का इस्तेमाल करते है यह क्या होता है जानना काफी आवश्यक है ताकि आपका कार्य आसान हो सके इसलिए इस लेख में email address kya hota hai कि संपूर्ण जानकारी विस्तार पूर्वक सरल भाषा में दी गई है।

ईमेल क्या है

अगर आप यह जानना चाहते है कि email address kya hota hai?

तो सबसे पहले आपको यह जानने की जरूरत है कि ईमेल क्या होता है। अगर हम टेक्निकली समझे तो ईमेल का फुल फॉर्म होता है इलेक्ट्रॉनिक मेल। इससे हम यह भी कह सकते है कि यह एक प्रकार का पत्र है जिसे इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से कहीं भेजा जाता है।

ई-मेल एक प्रकार का पत्र है। क्योंकि जिस प्रकार से हम एक पत्र लिखते है और उसे अपने डाकघर के माध्यम से कहीं भेजते है। यहां फर्क केवल इतना है कि हमारे द्वारा लिखी गई चिट्ठी जो हम डाकघर के द्वारा कहीं भेजते है तो उसको पहुंचने में कुछ समय लग जाता है। लेकिन ईमेल एक ऐसा पत्र है जिसे कागज पर नहीं लिखा जाता है बल्कि इसे कंप्यूटर पर टाइप किया जाता है और इंटरनेट के माध्यम से आप इसे सेकंडो में कहीं भी भेज सकते है और वह आदमी ईमेल पढ़ सकता है।

आप ईमेल का फायदा उठाकर अपने किसी भी संदेश को झटपट दुनिया में कहीं भी इंटरनेट के माध्यम से भेज सकते हैं और इससे आपको फायदा है कि ईमेल एकदम फ्री सेवा है और अगर आप डाक के माध्यम से कहीं चिट्ठी भेजते हैं तो आपको पेज भी खरीदना पड़ता है और आपको डाकघर से भेजने में कुछ पैसे भी खर्च करने पड़ते हैं। डाकघर से भेजा गया चिट्ठी पहुंचने में थोड़ा वक्त भी लगता है। लेकिन मेल द्वारा भेजा गया पत्र बहुत ही जल्दी यानी की सेकंडो‌ में पूरी दुनिया में कहीं भी पहुंच सकता है।

Email address kya hota hai

हम आपको बता दें कि जब हम डाक के माध्यम से अपना कोई पत्र भेजते है तो हम उस पत्र पर पत्र प्राप्त करने वाले का नाम और पता लिखते है, साथ में हम अपना नाम और पता भी लिखते हैं। ठीक उसी प्रकार जब हम इलेक्ट्रॉनिक मेंल यानी की ईमेल से किसी के पास कोई सूचना भेजते है तो उस पर भी हम प्राप्तकर्ता का नाम और एड्रेस के साथ साथ अपना नाम और एड्रेस भी लिखते है जिसे आधुनिक तौर पर ईमेल एड्रेस कहा जाता है।

ईमेल एड्रेस किसी भी ईमेल अकाउंट की एक अलग पहचान होती है। ईमेल एड्रेस का उपयोग हम लोग ईमेल भेजने और ईमेल रिसीव करने में करते है। चाहे हमें अपना ईमेल किसी के भी पास भेजना हो या किसी का ईमेल रिसीव करना हो दोनों के लिए हमारे पास ईमेल एड्रेस होना बेहद जरूरी है।

सरल भाषा में यह सकते है कि इंटरनेट पर गुप्त तौर से किसी भी जानकारी को साझा करने के लिए हमारे पास एक अलग पहचान होती है जिसे ईमेल ऐड्रेस कहा जाता है।

अगर हमारे पास ईमेल एड्रेस नहीं रहेगा तो हम ना ही किसी के पास ईमेल भेज सकते है और ना ही किसी का ईमेल रिसीव कर सकते है। जिस तरह हर अलग व्यक्ति की एक अलग पहचान होती है वैसे ही हर email यूजर्स के पास अपनी एक अलग ईमेल एड्रेस होती है जिसके माध्यम से वह अपना मेल एक दूसरे को भेज सकते हैं।

हम आपको बता दें कि इंटरनेट पर ईमेल एड्रेस सिर्फ और सिर्फ एक ही फॉर्मेट है जिसमे इसे दो भागों में बांटा गया है। पहले भाग को यूजरनेम और दूसरे भाग को डोमेन नेम कहते है। यूजरनेम में कोई भी अपने अनुसार अपना यूजरनेम रख सकता है लेकिन डोमेन नेम उसको gmail.com ही मिलेगा।

अगर आप समय को देखते हुए और इसके साथ चलना चाहते है तो आपको भी अपना एक ईमेल एड्रेस बनाना होगा और इसका उपयोग करना होगा। अगर आप अपना ईमेल एड्रेस बनाना चाहते है और आप भी डिजिटल प्लेटफार्म का उपयोग करना चाहते है तो इस लेख को अंत तक पढ़े।

अपना ईमेल एड्रेस कैसे बनाते हैं?

ईमेल एड्रेस का महत्व जानने के बाद आप अपना एक ईमेल एड्रेस बनाना चाहते है तो नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें।

Step 1 – सबसे पहले आपको गूगल पर जाना है और gmail.com सर्च करना है। यह ईमेल की सुविधा प्रदान करने वाली कंपनी का अधिकारिक वेबसाइट है।

Step 2 – वहां आपसे आपका ईमेल एड्रेस बनाने के लिए यूजर नेम मांगा जाएगा जहां आप अपने मन से कुछ भी डाल सकते है।

Step 3 – ऐसा बहुत बार होता है कि आपका चुना हुआ ईमेल एड्रेस आप को नहीं मिलता क्योंकि पहले से ही कोई उस तरह के यूजरनेम का इस्तेमाल कर रहा होता है ऐसी परिस्थिति में गूगल आपको स्वयं कुछ अच्छे यूजरनेम का सुझाव देता है अपनी सुविधा अनुसार किसी एक का चयन कर ले और आगे बढ़े।

Step 4 – आगे आपसे आपका नाम और एड्रेस पूछा जाएगा आप आज्ञा अनुसार सभी रिक्त स्थानों को उचित जानकारी से भर दे।

Step 5 – आगे बढ़ने पर आपको अपना मोबाइल नंबर या रिकवरी ईमेल आईडी देना होगा। याद रखें मोबाइल नंबर ना देने पर कुछ समय के पश्चात दोबारा आपसे मोबाइल नंबर मॉडल जाएगा। आप मोबाइल नंबर के स्थान पर रिकवरी ईमेल आईडी भी दे सकते है।

Step 6 – जब आप सभी प्रकार की जानकारी को आदेश अनुसार भर देंगे और डोन पर क्लिक करेंगे तब आपका एक ईमेल आईडी बन जाएगा जिसकी मदद से आप विभिन्न प्रकार के एप्लीकेशन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ईमेल एड्रेस से क्या फायदे है

जैसा कि आपको पता होगा ईमेल एड्रेस आज का आधुनिक पत्र है मगर इसके कुछ मुख्य लाभ है जिनके बारे में विस्तार पूर्वक बताया गया है –

  • इंटरनेट पर ईमेल एड्रेस आपको एक अलग पहचान देता है।
  • अपनी किसी भी जानकारी को बिना किसी खर्च के या तकलीफ के बड़ी आसानी से किसी तीसरे के साथ साझा करने के लिए ईमेल एड्रेस का इस्तेमाल किया जाता है।
  • किसी जानकारी को ईमेल एड्रेस के जरिए साझा करने का सबसे बड़ा मुनाफा यह होता है कि इसे केवल वही व्यक्ति देख सकता है जिसके ईमेल एड्रेस पर आपने साझा किया हो।

निष्कर्ष

दोस्तों आप हमारे इस आर्टिकल को यहां तक पढ़ कर आए हम इसके लिए आपको तहे दिल से धन्यवाद देते हैं और उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और इसमें दी गई सारी जानकारी आपको बिल्कुल अच्छे से समझ में आ गई होगी। हम आपको एक बार फिर से याद दिला दें कि आज की इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको email address kya hota hai के बारे में लगभग सारी जानकारी दे दी है।

तो अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया और इसमें दी गई सारी जानकारी अच्छे से समझ में आ गई तो आप इसे अपने दोस्तों रिश्तेदारों और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करना ना भूले।

Leave a Reply

Your email address will not be published.