$1 में कितने रुपए होते हैं – ek dollar mein kitne rupaye hote hain

ek dollar mein kitne rupaye hote hain – इस वक्त $1 बराबर ₹74.42 पैसे चल रहा है। अगर आप न्यूज़ देखते होंगे तो आपको पता होगा कि डॉलर की कीमत ऊपर नीचे होती रहती है। मगर आपने कभी भी एक डॉलर को भारतीय पैसे से कम होते नहीं देखा होगा, आखिर ऐसा क्यों है $1 बराबर कितना रुपया होता है और वह किस तरह से ऊपर नीचे होता है इस बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी इस लेख में हम आपको देंगे।

$1 बराबर ₹74 का अर्थ होता है कि जब हम ₹74 की कोई चीज खरीदेंगे तो उसकी कीमत अमेरिका में 1 रुपय होगी इसके विपरीत अगर किसी चीज की कीमत अमेरिका में $100 है तो उसकी कीमत भारत में ₹7400 होगी। इन सब से जुड़ी बहुत सारी गलत धारणाएं और जानकारी का अभाव हमारे बीच है जिसे कम करते हुए इस लेख में हम डॉलर और रुपए के बारे में विस्तार पूर्वक बात करेंगे।

अभी 1 $ बराबर कितने चल रहा चेक करे – यहाँ जाये

ek dollar mein kitne rupaye hote hain

हम यह जानते है कि $1 मतलब ₹74 होता है मगर एक रुपए में कितना डॉलर होता है इसका सीधा अर्थ है कि ₹1 के बदले आपको $1 भी कोई नही देगा।

अमेरिका में $1 की अच्छी कीमत है वह $1 में खाने-पीने की कुछ छोटी-मोटी चीजें खरीद सकते है मगर भारत में अब एक रुपए पर कुछ नहीं कर सकते। डॉलर की बढ़ती कीमत ही वह कारण है जिस वजह से भारत का हर नागरिक चाहता है कि वह अमेरिका जाकर काम करें। अपनी जब से होश संभाला होगा तब से आपने यह देखा होगा कि डॉलर की कीमत दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है, इसका अर्थ यह है कि भारत को विदेशी बाजार से सामान खरीदने के लिए पैसे उधार लेने पड़ रहे हैं।

इसे पड़े – 1 Million कितना होता है? -1 मिलियन भारतीय रुपए में कितना होता है?।

अगर $1 बराबर एक रुपए हो जाए

भारत का शायद ही ऐसा कोई नागरिक होगा जो नहीं चाहता होगा कि भारतीय रुपए डॉलर के बराबर हो जाए। अगर भारत का ₹1 अमेरिका के $1 के बराबर हो जाए तो इसका सबसे बड़ा मुनाफा यह होगा कि भारत में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोएगा महंगाई बिल्कुल खत्म हो चुकी होगी जिन चीजों के दाम आसमान छू रहे हैं वह सभी चीजें बहुत सस्ती हो चुके होंगे।

अब आप सोच रहे होंगे कि अगर ऐसा हो सकता है तो सरकार ऐसा कर क्यों नहीं रही है?

आपको यह समझना होगा कि ऐसा होना संभव नहीं है हालांकि भारतीय ₹1 अमेरिकी डॉलर के बराबर हो जाए इसके लाखों फायदे होंगे मगर क्या आपको पता है कि एक समय ऐसा था जब भारत का ₹1 अमेरिका के $1 के बराबर था। फर्स्ट समय था 1947 जब भारत आजाद हुआ था क्या आपको लगता है कि उस वक्त महंगाई नहीं रही होगी उस वक्त भूखमरी नहीं रही होगी क्योंकि एक रुपए तो $1 के बराबर था। बल्कि इसका उलटा था उस वक्त भारतीय रुपए अमेरिकी डॉलर के बराबर तो था मगर भारत में महंगाई भी बहुत ज्यादा थी और भूखमरी भी अपने चरम सीमा पर थी।

आसान भाषा में अगर हम समझाने की कोशिश करें तो आप ऐसे समझ सकते है, कि 1947 वह साल था जब अमेरिकी $1 भारतीय ₹1 के बराबर था। मगर उस वक्त भारत में कुछ नहीं था भारत को हर चीज विदेशी मार्केट से खरीदने की जरूरत थी और विश्व बाजार में हर चीज डॉलर में मिलती है। पैसे की बात करें तो भारत के पास विदेशी बाजार से सामान खरीदने के लिए पैसे नहीं थे अब डॉलर में विदेशी बाजार में सामान खरीदा था इस वजह से भारत ने डॉलर उधार लिए।

उसके बाद भारत को जब भी विदेशी बाजार से कुछ खरीदना होता वह डॉलर उधार में लेकर सामान खरीद लेता इस वजह से डॉलर की कीमत बढ़ने लगी। हर बार उधार लेते वक्त तक डॉलर की कीमत बढ़ा दी जाती थी। और धीरे-धीरे इस भारत को विदेशी बाजार में $1 के सामान को खरीदने के लिए ₹74 का भुगतान करना पड़ता है।

अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो फायदे

अब हम आपको इस काल्पनिक स्थिति का कुछ फायदा बताने जा रहे हैं अगर इस वक्त भारत का एक रुपए डॉलर के बराबर हो जाए तो देश में किस प्रकार के फायदे आपको देखने को मिलेंगे –

  • आपको यह पता होगा कि भारत में बहुत सारी चीज है विदेशी देशों से मंगानी पड़ती है। अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो सरकार को विदेशी चीजों को अपने देश में मंगाने के लिए अधिक पैसा नहीं देना पड़ेगा जिस वजह से महंगाई बहुत ज्यादा कम हो जाएगी।
  • आपको यह भी पता होगा कि पेट्रोल हम लोग विदेश से मंगाते है अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए भारत को पेट्रोल अपने देश में लाने के लिए कम पैसा देना पड़ेगा जिस वजह से पेट्रोल की कीमत भी घटेगी और पेट्रोल की कीमत घटने से हमारे देश में ट्रांसपोर्टेशन सस्ता हो जाएगा जिससे लगभग हर चीज की महंगाई खत्म हो जाएगी।
  • ब्रांडेड चीजें ज्यादातर अमेरिका या विदेशी देशों से आती है जैसे आईफोन आईफोन की कीमत भारत में एक लाख के ऊपर है अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो यही आईफोन आपको ₹600 में मिलेगा।

अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो नुकसान

अगर आप भी यही सोच रहे हैं कि $1 एक रुपए के बराबर हो जाता उसको बहुत मुनाफा होगा तो यह गलत है आपको बता दें कि इससे भारत को कुछ नुकसान भी होगा इस नुकसान के बारे में आपको बताया जा रहा है –

  • भारत में डॉलर की कीमत ज्यादा है यह बात अमेरिकी देशों के आदमियों को भी पता है इस वजह से वह नौकरी करने के लिए भारतीय लोगों को ज्यादा प्रेफर करते है जो जानते है कि यह के लोग कम सैलरी में ज्यादा काम करने को तैयार हो जाएंगे। अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाएगी तो भारतीय लोगों को अमेरिकी देशों में नौकरी मिलने की संभावना कम हो जाएगी।

अगर आप यह सोच रहे है कि अमेरिका में लोगों को नौकरी नहीं मिलेगी तो इससे भारतीय लोगों को कोई खास नुकसान नहीं होगा तो आप गलत सोच रहे है। भारत के लोग विदेश में जाकर नौकरी करते है और भारत को इसका टैक्स देते है इससे भारत का जीडीपी में 15% से 20% फर्क पड़ता है।

  • भारत जब अपना कोई समान विदेश में एक सपोर्ट करता है तो उसकी कीमत भी इसी डॉलर के हिसाब से लगती है अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाएगा तो भारत का एक्सपोर्ट रूक जाएगा।

Frequently Asked Questions (FAQ)

Q. इस वक्त $1 की कीमत कितने रुपए है?

इस वक्त एक डॉलर की कीमत ₹74.44 पैसे है।

Q. $1 एक रुपए के बराबर कब था?

जब भारत आजाद हुआ था तब 1947 में $1 एक रुपए का हुआ करता था।

Q. $1 एक रुपए के बराबर होने से क्या होगा?

$1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो देश में महंगाई पूरी तरह से खत्म हो जाएगी।

Q. डॉलर की कीमत रूपए की तुलना में दिन पर दिन क्यों बढ़ता जा रहा है?

भारत को अपने देश में सामान मंगवाने के लिए विदेशी देशों से उधार लेना पड़ रहा है जिस वजह से डॉलर की कीमत दिन पर दिन बढ़ती जा रही है।

निष्कर्ष

उम्मीद करते है आप इस लेख को पढ़ने के बाद ek dollar mein kitne rupaye hote hain और अगर $1 एक रुपए के बराबर हो जाए तो इसके क्या मुनाफे और नुकसान है इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई उम्मीद करते है। आपको इस लेख से लाभ हुआ होगा इससे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने विचार हमें कमेंट करके बताना ना भूलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.