Dl Kya Hota Hai और कैसे बनाएं

Dl Kya Hota Hai लोगों को तो पता ही नहीं होता है और यहां तक कि कई लोगों को डीएल का फुल फॉर्म क्या होता है? इसके बारे में भी ठीक से जानकारी नहीं है। अगर आपको भी जानना है कि डीएल क्या होता है? एवं डीएल कैसे बनाएं? तो ऐसे में आपको हमारी आज की यह जानकारी आपके लिए काफी ज्यादा हेल्पफुल होने वाली है क्योंकि आपको आज के इस विषय से संबंधित इस लेख के माध्यम से पूरी  विस्तृत जानकारी के बारे में पता चलने वाला है।

अनुक्रम दिखाएँ

किसी भी प्रकार के वाहन को चलाने के लिए हमें सबसे पहले लाइसेंस की जरूरत होती है और इसीलिए आपको डीएल बनाना बेहद जरूरी है। तो चलिए अब बिना किसी देरी कि हम आपको आज के इस विषय पर विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करते हैं ताकि आप आसानी से डीएल बनाकर अपने देश में दो चक्का या फिर चार चक्का किसी भी प्रकार का वाहन चला सको।

DL Kya Hota Hai highlights in Hindi

आर्टिकलड्राइविंग लाइसेंस कैसे बनवाएं
विभागसड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय
उद्देश्ययोग्य व्यक्ति को ड्राइविंग लाइसेंस प्रदान करना
आवेदन का प्रकारऑनलाइन / ऑफलाइन
वर्तमान वर्ष2022
ऑफिसियल वेबसाइटsarathi.parivahan.gov.in

डीएल क्या होता है

दोस्तों चलिए सबसे पहले हम आपको डी एल का फुल फॉर्म? के बारे में बता देते हैं क्योंकि अगर आप इस के फुल फॉर्म को समझ जाओगे तब आपको डीएल क्या होता है? के बारे में भी आसानी से समझ में आ जाएगा। दोस्तों डी एल का फुल फॉर्म ‘ड्राइवरी लाइसेंस’ होता है। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं मानवता की सुविधा के लिए आज ट्रांसपोर्ट संबंधित बहुत सारी सुविधाएं मौजूद हैं। 

जिनमें से दो चक्का, चार चक्का वाहन शामिल है। किसी भी प्रकार के वाहन को चलाने के लिए ड्राइवर की आवश्यकता होती है क्योंकि बिना ड्राइवर के वाहन चलाना संभव नहीं है ड्राइवर ही ऐसा है एक व्यक्ति होता है जो वाहन पर पूरा नियंत्रण रखता है और उसे चलाने का काम करता है। सभी प्रकार के देश में वाहनों के लिए यातायात नियम बनाए गए हैं और यातायात नियम में सबसे महत्वपूर्ण वाहन चालक का डीएल यानी की ड्राइवरी लाइसेंस है। जिस प्रकार से हमारे पास आधार कार्ड, पैन कार्ड और वोटर आईडी कार्ड आदि जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज होते हैं। 

ठीक उसी प्रकार से किसी भी प्रकार के वाहन को चलाने के लिए ड्राइविंग लाइसेंस होता है। बिना ड्राइवरी लाइसेंस के अगर आप किसी भी प्रकार का वाहन चलाओगे तो आपके ऊपर यातायात के नियमों का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्यवाही की जा सकती है और यहां तक की आवश्यक जुर्माना भी आपके ऊपर लगाया जा सकता है। बिना ड्राइवरी लाइसेंस के छोटे से छोटा और बड़े से बड़ा वाहन चलाना यातायात के नियमों का उल्लंघन करना होता है और इसीलिए अगर आप 18 वर्ष से ऊपर के हो गए हो तो किसी भी प्रकार के वाहन को चलाने के लिए अपना ड्राइवरी लाइसेंस सबसे पहले जरूर बनाएं।

डीएल कैसा होता है

लोगों के मन में यह जिज्ञासा होती है कि वह जाने कि आखिर डीएल कैसा होता है या फिर कैसा दिखाई देता है? जिस प्रकार से आधार कार्ड एवं अन्य पर्सनल डॉक्यूमेंट आपके प्रमाणिकता को प्रमाणित करते हैं ठीक उसी प्रकार से ड्राइवरी लाइसेंस भी एक डॉक्यूमेंट की तरह होता है। डीएल आपकी एटीएम कार्ड के जैसा दिखाई देता है जिसमें वाहन चालक का सारा डिटेल और एक यूनिक डीएल आईडी नंबर दर्ज किया गया होता है। 

डीएल के अंदर आपको आपका फोटो, आपका पूरा नाम, आपका डेट ऑफ बर्थ और आपका पूरा एड्रेस एवं अन्य आवश्यक जानकारियां दर्ज की गई होती है। जिस प्रकार से आपको एटीएम कार्ड के अंदर एक पीला कलर का छोटा सा चिप दिखाई देता है ठीक उसी प्रकार से अब डीएल के अंदर भी एक यूनिक चिप दिया जाता है और इसी चीप के अंदर आपकी सारी जानकारी दर्ज की गई होती है। 

डीएल के अंदर इन सभी आवश्यक जानकारियों के साथ साथ आप जिस राज्य के निवासी हैं उसका भी एक यूनिक कोड  आपके डीएल नंबर में दर्ज किया गया होता है और उस के माध्यम से पता चल जाता है कि आप किस राज्य के निवासी हैं एवं आपका डीएल किस राज्य में जारी किया गया है। आप डीएल किसी भी राज्य से बना सकते हो इसमें कोई एक निश्चित किसी राज्य के निवासी होने की प्रमाणिकता या पात्रता को जारी नहीं किया गया है।

डीएल क्यों अनिवार्य है और क्या सब के पास डीएल होना जरूरी है

अगर आपको दो चक्का से लेकर बड़े से बड़ा वाहन चलाना है तो ऐसे में आपके पास ड्राइवरी लाइसेंस होना बेहद अनिवार्य है। बिना ड्राइवरी लाइसेंस के वाहन चलाना कानूनी अपराध होता है। ड्राइवरी लाइसेंस के माध्यम से ही पता चल पाता है कि कोई व्यक्ति वाहन चलाने की योग्यता रखता है या फिर नहीं। जब आप ड्राइवरी लाइसेंस के लिए आवेदन करने जाते हो तो सबसे पहले आपको वाहन चलाना सीखना होता है। 

और फिर जब आप ड्राइवरी लाइसेंस बनवाने के लिए होने वाले टेस्ट को पास कर लेते हो तब आपको ड्राइवरी लाइसेंस जारी किया जाता है। मतलब की ड्राइवरी लाइसेंस बनाने के दौरान ही आपको वाहन चलाने की जानकारी प्रदान कर दी जाती है और तभी आपको किसी राजमार्ग पर या फिर किसी भी प्रकार के रोड पर चाहे जैसा वाहन चलाने की अनुमति मिल पाती है। 

अब सवाल उठता है कि क्या सबके पास ड्राइवरी लाइसेंस होना जरूरी है? तो हम आपको बता दें कि जो लोग वाहन चलाते हैं उन्हें यह बनवाना बेहद जरूरी है और अगर आप वाहन नहीं चलाते हो तो आपको ड्राइवरी लाइसेंस की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है।

डीएल बनवाने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

अगर आप डीएल बनवाना चाहते हो तो सबसे पहले आपको कुछ एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के बारे में जानकारी होनी चाहिए ताकि आप बिना किसी रूकावट के अपना डीएल आसानी से बना सको डीएल बनाने के लिए आप ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन दोनों ही तरीके से सफलतापूर्वक आवेदन कर सकते हो तो चलिए जानते हैं कि डीएल बनवाने के लिए क्या रिक्वायरमेंट है जिसकी जानकारी नीचे पॉइंट के माध्यम से बताई गई है।

  • डीएल बनाने वाला उम्मीदवार पूरी तरीके से भारतीय भारती होना चाहिए।
  • डीएल बनाने वाले उम्मीदवार की उम्र कम से कम 18 वर्ष या इससे अधिक होनी चाहिए।
  • डीएल के लिए आवेदन करने वाला उम्मीदवार मानसिक रूप से स्वस्थ रहना अनिवार्य है।
  • अगर आप 16 वर्ष के उम्र के हैं और आपको ड्राइवरी लाइसेंस बनवाना है तब ऐसे में आपको बिना गियर वाले वाहन के लिए ही डीएल जारी किया जाएगा।
  • आपको सभी प्रकार के यातायात के नियमों के बारे में पता होना चाहिए क्योंकि डीजल बनाने के दौरान इन सभी चीजों का टेस्ट देना होता है।
  • डीएल के लिए किसी भी राज्य या फिर किसी भी शहर से आप आवेदन कर सकते हो।

डीएल बनवाने के लिए रिक्वायर्ड डॉक्युमेंट

जब आप डीएल बनाने के लिए अपना ऑफलाइन या फिर ऑनलाइन आवेदन करने जाओगे तब आपको उस दौरान कुछ आवश्यक डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी और बिना उन सभी डॉक्यूमेंट के आप अपना डीएल के लिए आवेदन नहीं कर पाओगे तो चलिए जानते हैं कि दीवार बनाने के लिए आपको कौन-कौन से रिक्वायर्ड डॉक्युमेंट की जरूरत होगी जिसकी जरूरत होगी जिसकी जानकारी नीचे विस्तार पूर्वक से बताई गई है।

  • आपके पास आधार कार्ड होना चाहिए।
  • निवास प्रमाण पत्र के रूप में आप कोई भी डॉक्यूमेंट का इस्तेमाल कर सकते हो।
  • एड्रेस प्रूफ के तौर पर आप पानी का बिल, बिजली का बिल या एलपीजी कनेक्शन का पासबुक दिखा सकते हो।
  • जन्म तिथि प्रमाण पत्र को सत्यापित करने के लिए आप अपने 10वीं या फिर 12वीं की मार्कशीट भी लगा सकते हो।
  • उम्मीदवार का कम से कम दो पासपोर्ट साइज नवीनतम फोटो लगेगा।
  • डीएल बनाने वाले उम्मीदवार को अपना ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन फॉर्म में हस्ताक्षर करना होगा।
  • आपके पास लर्निंग लाइसेंस नंबर होना चाहिए।
  • इन सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ-साथ आपके पास एक स्थाई मोबाइल नंबर होना चाहिए जिस पर आपके डीएल संबंधित सभी आवश्यक सूचना s.m.s. के माध्यम से भेजे जाएंगे।

डीएल के प्रकार 

आइए हम हम आपको बताते हैं कि डीएल कितने प्रकार के होते हैं एवं आप किस किस प्रकार के डीजल के लिए अपना ऑफलाइन या ऑनलाइन दोनों ही तरीके से आवेदन कर सकते हो इसकी जानकारी यहां पर नीचे विस्तार पूर्वक से बताई गई है।

हल्के मोटर वाहन के लिए डीएल

अगर आप ज्यादा हैवी व्हीकल नहीं चलाते हो मतलब हल्के वाहन चलाते हो तब ऐसे में आपको इस प्रकार के डीएल के लिए अपना आवेदन करना चाहिए इस प्रकार के डीएल में केवल हल्के वाहनों को चलाने की अनुमति दी जाती है।

लर्निंग लाइसेंस

अगर आप अभी वाहन चलाना सीख रहे हो तब ऐसे में आपको शुरुआती समय में लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करना होता है सबसे पहले उम्मीदवार का लर्निंग लाइसेंस की बनाया जाता है और उसके बाद किसी भी प्रकार के डीएल के लिए आप आवेदन कर सकते हो। अगर आपको वाहन चलाना सीखना है या फिर डीएल बनवाना है तो सबसे पहले आपको लर्निंग लाइसेंस बनवाना बेहद अनिवार्य है।

इंटरनेशनल लेवल डीएल

कई सारे ऐसे वाहन चालक होते हैं जो विदेशों में नौकरी वाहन चालक के रूप में करते हैं या फिर वे टैक्सी आदि चलाते हैं तब ऐसे में आपको विदेश में जाकर अगर वाहन चलाना है तो आपको इंटरनेशनल लेवल का डीएल बनवाना होगा। जब आपके पास अंतरराष्ट्रीय ड्राइवरी लाइसेंस होगा तब आप इसका उपयोग वहां किसी भी प्रकार के वाहन को चलाने के लिए आसानी से कर सकते हो और यह विश्व में कहीं पर भी मान्य होता है।

भारी मोटर वाहन के लिए डीएल

अगर आप 10 चक्के के ऊपर हैवी व्हीकल चलाते हो तो ऐसे में आपको हेवी व्हीकल डीएल के लिए आवेदन करना होगा। इस प्रकार केडीएल के अंतर्गत सभी प्रकार के वाहन को चलाने की अनुमति दी जाती है और उसके प्रकार का डीएल है तो आप बड़ी ही आसानी से भारी से भारी मोटर वाहन चलाने के लिए योग्य हो।

परमानेंट डीएल लाइसेंस

परमानेंट डीएल यानी कि स्थाई ड्राइवरी लाइसेंस होता है। इस प्रकार के वाहन लाइसेंस को तब बनाया जाता है जब आप किसी भी प्रकार के अन्य लाइसेंस के लिए अपना आवेदन ना दो जब इस प्रकार का ड्राइवरी लाइसेंस जारी कर दिया जाता है तब आपको कभी भी डीएल बनवाने की आवश्यकता नहीं होगी और यह परमानेंट के लिए आपको बना कर दिया जाएगा और आप इसका उपयोग आजीवन रूप से कर सकोगे।

डीएल बनवाने के लिए फीस की जानकारी 2022

डीएल बनवाने से पहले उम्मीदवारों के मन में सबसे बड़ा सवाल यह होता है कि डीएल बनवाने के लिए उन्हें कितना फीस देना होगा या फिर को किस प्रकार के डीएल बनवाने पर उन्हें कितना फीस देना पड़ सकता है ।

और इसीलिए यहां पर हमने आपकी समस्या को समझते हुए डीएल बनवाने के लिए निर्धारित फीस का एक टेबल तैयार किया है जिसके माध्यम से आपको पता चल सकेगा कि डीएल बनवाने के दौरान आपको किस प्रकार की फीस का भुगतान करना होगा और कितना भुगतान करना होगा। इसके लिए नीचे टेबल को सबसे पहले ध्यान से समझे। 

प्रकारफीस
लर्नर लाइसेंस150.00
लाइसेंस परीक्षण शुल्क यापुनरावृत्ति परीक्षण शुल्क50.00
परीक्षण के लिए, या दोहराए जाने वाले परीक्षण के लिए(वाहन के प्रत्येक वर्ग के लिए)300.00
ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना200.00
अंतर्राष्ट्रीय ड्राइविंग परमिट जारी करना1000.00
ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण200.00
पते में बदलाव के लिए कोई भी आवेदन याड्राइविंग लाइसेंसजैसे पते आदि में दर्ज कोई अन्य विवरण।200.00
कंडक्टर लाइसेंस फीसडीएल की आधी फीस
डुप्लीकेट लाइसेंस जारी करना 200.00
डुप्लिकेट कंडक्टर लाइसेंसडीएल शुल्क का आधा

डीएल या ड्राइवरी लाइसेंस कैसे बनवाएं

आप डीएल को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से बनवा सकते हो। डीएल बनवाने के लिए आपको सबसे पहले आवेदन करने के बाद ऑनलाइन एग्जाम टेस्ट को क्लियर करना होता है और उसके बाद आपको फिजिकल रूप में वाहन चलाने का टेस्ट भी देना होता है। 

और जब आप यह सब कुछ कर लेते हो तब आप आसानी से डीएल बनवा सकते हो चलिए अब हम आपको डीएल बनाने की ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों ही तरीकों के बारे में जानकारी देते हैं जो नीचे विस्तारपूर्वक पर बताई गई है।

डीएल बनवाने के लिए अपना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

अगर आप डीएल बनवाने के लिए अपना ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हो तो ऐसे में आपको नीचे बताए गए कुछ पॉइंट को समझना होगा और उन्हीं पॉइंट को समझकर आपको अपना डीएल बनवाने के लिए ऑनलाइन आवेदन देना होगा जिसकी जानकारी नीचे बताई हुई है।

  • सबसे पहले आपको सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के अधिकारी वेबसाइट पर चले जाना है और इसके होम पेज को ओपन कर लेना है। 
  • यहां पर आपको स्टेट का चुनाव करने के लिए कहा जाएगा मतलब आप जिस राज्य से डीएल के लिए अपना आवेदन कर रहे हो उसका आपको यहां पर चुनाव करने के लिए कहा जाएगा और आपको अपना स्टेट यहां पर सेलेक्ट कर लेना है।
  • जब आप इतना प्रोसेस कंप्लीट कर लोगे उसके बाद आपको ‘न्यू ड्राइवरी लाइसेंस’ नामक एक ऑप्शन दिखाई देगा और आपको विश वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • ऊपर बताएगा प्रोसेस को कंप्लीट कर लेने के पश्चात आपको ‘कंटिन्यू’ का एक ऑप्शन दिखाई देगा और आपको इस वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इतना प्रोसेस कंप्लीट कर लेने के बाद आपको एक नया इंटरफ़ेस दिखाई देगा और यहां पर आपसे कुछ जानकारियां दर्ज करने के लिए कहीं जाएंगे और आपको उन जानकारियों को दर्ज करना है और उसके बाद ‘ओके’ के ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके साथ में एक बार फिर से नया इंटरफेस खुलेगा और यहां पर आपसे कुछ जानकारियां पूछे जाएंगे और आपको इस आवेदन फॉर्म में पूरी जानकारी को ध्यानपूर्वक से पढ़ते हुए भरना है और उसके बाद जब जानकारी भर दें फिर अंतिम में आपको कुछ आवश्यक डॉक्यूमेंट को भी आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड करने के लिए कहा जाएगा। 
  • आधिकारिक पोर्टल पर सभी प्रकार के डॉक्यूमेंट को अपलोड कर लेने के पश्चात अब आपको आगे ‘नेक्स्ट’ का एक ऑप्शन दिखाई देगा और आपको इस वाले ऑप्शन पर क्लिक कर देना होगा।
  • जब आप इतना प्रोसेस कंप्लीट कर लो फिर उसके बाद आपको डीएल प्राप्त करने के लिए अपॉइंटमेंट फिक्स करना होगा मतलब कि आप जिस तारीख को और जिस समय पर चाहो उसी डेट और उसी समय पर आरटीओ ऑफिस में आपको उपस्थित होना होगा और इस चीज का चुनाव आप अपने आवश्यकता और सुविधानुसार कर सकते हो ।
  • अब आप इतना सब कुछ कर लो तब आपको आगे डीएल बनवाने के लिए निर्धारित फीस का भुगतान करने के लिए कहा जाएगा और आपको निर्धारित फीस का भुगतान लिए गए पेमेंट ऑप्शन में से किसी एक ऑप्शन का उपयोग करके पेमेंट का भुगतान कर देना है।
  • अब आप को निर्धारित समय के अनुसार आरटीओ ऑफिस चला जाना है और वहां पर संबंधित अधिकारी आपसे कुछ टेस्ट लेंगे और उन टेस्ट को क्लियर करने के बाद आपको डीएल जारी कर दिया जाएगा।
  • इस प्रकार से आप अपना डीएल के लिए घर बैठे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो।

डीएल बनवाने के लिए अपना ऑफलाइन आवेदन कैसे करें

अगर आप डीएल के लिए अपना ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तब वैसे मैं आपको नीचे बताए गए पॉइंट को समझना होगा और उसी हिसाब से अपना आवेदन करना होगा तो चलिए जानते हैं कि आप डीएल बनवाने के लिए अपना ऑफलाइन आवेदन कैसे करोगे इसकी जानकारी नीचे बिताते हुए बताई गई है। 

  • डीएल बनवाने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी आरटीओ ऑफिस में चले जाना है और उन्हें डीएल बनवाने के बारे में जानकारी प्रदान करनी है।
  • अब आपको आरटीओ ऑफिस एक आवेदन फॉर्म प्रदान करेगा और आपको इस आवेदन फॉर्म में दी गई जानकारियों को सबसे पहले ध्यान पूर्वक से पढ़ना है और उसके बाद एक-एक करके सही सही जानकारी को आवेदन फॉर्म में भरते चले जाना है।
  • जब आप आवेदन फॉर्म को भर लो तब उसके बाद आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों को भी संलग्न करने के लिए कहा जाएगा और इसकी जानकारी आवेदन फॉर्म में दी गई होगी कि आप हो कौन से दस्तावेज को आवेदन फॉर्म में संलग्न करना है।
  • जब आपका आवेदन फॉर्म पूरी तरीके से जमा करने के लिए तैयार हो जाए तब आपको आरटीओ ऑफिशल कुछ निर्धारित शुल्क का भुगतान करने के लिए कहेगा और आपको आरटीओ ऑफिस के पास निर्धारित शुल्क का भुगतान करके रशीद को प्राप्त कर लेना है।
  • अब आपको आरटीओ ऑफिशल की तरफ से निर्धारित समय और तारीख बताई जाएगी और आपको उसी तारीख और समय पर आरटीओ ऑफिस में विजिट करना होगा और फिर आपसे ऑफिसर के माध्यम से कुछ टेस्ट आदि लिए जाएंगे और आपको उन टेक्स्ट को क्लियर करना होगा।
  • जैसे ही आप टेस्ट दे देंगे वैसे ही 1 हफ्ते के अंदर अंदर आपका डीएल आपको जारी कर दिया जाएगा और इस प्रकार से आपका ऑफलाइन तरीके से डीएल के लिए आवेदन पूरा हो जाता है।

डीएल क्या होता है? से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न एवं उनके उत्तर

यहां पर हमने करीब 5 ऐसे प्रश्नों के उत्तर दिए हैं जहां लोगों के मन में डीजल क्या है एवं कैसे बनाएं? से संबंधित होते हैं।

Q. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय का हेल्पलाइन नंबर क्या है?

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय का हेल्पलाइन नंबर 0120-2459169, ईमेल आईडी [email protected] दिया गया है अगर आपको किसी भी प्रकार की प्रॉब्लम होती है तब आप ऐसे में इन संपर्क सूत्र के सहारे संबंधित विभाग से हेल्प ले सकते हो।

Q. लर्निंग लाइसेंस के लिए उम्मीदवार के किस प्रकार के ज्यादातर प्रश्न किए जाते हैं?

लर्निंग लाइसेंस प्रदान करने के लिए उम्मीदवार से ज्यादातर यातायात से संबंधित सभी प्रकार के आवश्यक नियम और यातायात से जुड़े कुछ जानकारी के बारे में प्रश्न किए जाते हैं।

Q. डीएल बनवाने के लिए क्या सबसे पहले लर्निंग लाइसेंस की आवश्यकता होती है?

डीएल बनवाने के लिए सबसे पहले उम्मीदवार के पास लाइसेंस होना चाहिए और जब आपके पास लर्निंग लाइसेंस होगा तभी आप डीएल बनवाने के लिए अपना सफल आवेदन कर पाओगे।

Q. क्या घर बैठे डीजल के लिए अपना आवेदन कर सकते हैं?

जी हां बिलकुल डीएल बनवाने के लिए आप अपना घर बैठे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो।

Q. डीएल बनवाने के लिए न्यूनतम योग्यता क्या है?

अगर आप लर्निंग लाइसेंस के लिए आवेदन करते हो तब आपकी उम्र 16 वर्ष होनी चाहिए और अगर आप सीधे लर्निंग लाइसेंस के बाद डीजल बनवाना चाहते हो तब ऐसे में आपकी उम्र 18 वर्ष या इससे अधिक होनी अनिवार्य है क्योंकि इसके ऊपर के लोगों के लिए ही ड्राइवरी लाइसेंस जारी किया जाता है।

निष्कर्ष

Dl Kya Hota Hai से संबंधित हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में आप सभी लोगों को जानकारी प्रदान की हुई है। हमें उम्मीद है कि आपको आज का यह लेख पढ़कर डीएल के बारे में पूरी जानकारी मिल चुकी होगी और अब आपके मन में डीएल से संबंधित कोई भी प्रश्न नहीं होंगे।

अगर आपके मन में डीएल से संबंधित कोई भी सवाल या फिर कोई भी सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हो हम आपके द्वारा दिए गए प्रतिक्रिया का जवाब शीघ्र से शीघ्र देने का पूरा प्रयास करेंगे।

अगर आपको हमारा आज का यह लेख पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया हैंडल पर शेयर करना ना भूले ताकि आप के माध्यम से अन्य लोगों को भी इस महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में पता चल सके और हमारे इसलिए को शुरू से लेकर अंतिम तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद एवं आपका शुभ हो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.