Bina oximeter ke ghar mein oxygen ka level kaise check Karen.

Bina oximeter ke ghar mein oxygen ka level kaise check Karen : आज ऐसी परिस्थितियां चल रही है की लगभग सभी को ऑक्सीमीटर की आवश्यकता पड़ रही हैं। आज ऑक्सीमीटर कितनी मांग बढ़ चुकी है कि यह आउट ऑफ स्टॉक हो रहा है और इतना ही नहीं कोई साधारण व्यक्ति ऑक्सीमीटर का अफोर्ड भी नहीं कर पा रहा।

तो दोस्तों बिना ऑक्सीमीटर के भी आप अपने घर में बैठकर ऑक्सीजन की मात्रा चेक कर सकते हैं। आज के इस लेख में हम आप सभी लोगों को बिना ऑक्सीमीटर के घर में ऑक्सीजन की मात्रा कैसे चेक करें ?, इस विषय पर हम आपको विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे।

ऑक्सीमीटर क्या है ?

जिस प्रकार से थर्मामीटर, डिजिटल ब्लड प्रेशर मशीन चिकित्सकीय यंत्र है, ठीक उसी प्रकार से ऑक्सीमीटर एक चिकित्सकीय मशीन है। इसकी सहायता से शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा और हार्ट बीट को ट्रैक किया जाता है।

Covid-19 में ऑक्सीमीटर की आवश्यकता क्यों ?

जिस प्रकार से कोरोना वायरस के अनेकों लक्षण हैं, उनमें से एक लक्ष्मण शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा का कम होना है। अगर शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा का पता कर लिया जाए तो कोरोना से मरीजों का इलाज सही समय पर शुरू करके इसके मरीजों को स्वस्थ किया जा सकता है।

अगर आपको सर्दी जुकाम तेज बुखार सर में दर्द घुटनों में दर्द जैसे लक्षण दिखाई दे रहा है, तो आप इसे कोरोना वायरस का संक्रमण ना समझें, अपितु सबसे पहले अपने शरीर में ऑक्सीजन का लेवल चेक करें, शरीर में ऑक्सीजन का लेवल चेक करने के लिए ऑक्सीमीटर का इस्तेमाल किया जाता है।

आज से हमारी के दौर में लगभग हर एक घर में शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को जानने के लिए पल्स ऑक्सीमीटर का इस्तेमाल किया जा रहा है। कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि करने के लिए सबसे पहले पल्स ऑक्सीमीटर से शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को और इसका जल्द से जल्द डॉक्टर के परामर्श से प्राथमिक उपचार शुरू करें।

बिना ऑक्सीमीटर के घर में ऑक्सीजन की मात्रा की जांच कैसे करें ?

आज के समय में पल्स ऑक्सीमीटर का दाम रिमांड के अनुसार 2 गुना से 3 गुना तक बढ़ गया है, पहले जो पल्स ऑक्सीमीटर ₹1000 में आसानी से मिल जाते थे, अब यह तीन हजार या इससे ऊपर के दामों में बिक रहे हैं, इतना ही नहीं पल्स ऑक्सीमीटर की इतनी मांग है, कि यह आउट ऑफ स्टॉक हो रहे हैं।

ऐसे में अगर आप घर पर ही बिना ऑप्शन मीटर के अपने शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को जानना चाहते हैं, तो नीचे बताए गए कुछ साधारण तरीकों को अपनाएं और अपने शरीर में उपलब्ध ऑक्सीजन की मात्रा का एक साधारण overview प्राप्त करें।

  1. रोथ स्कोर के जरिए :-

    यदि आप बिना ऑक्सीमीटर के उपयोग से शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को जानना चाहते हैं, तो यह युक्ति आपके लिए काफी कारगर सिद्ध हो सकती है।

    आप सबसे पहले एक लंबी सांस लें और उसे रोककर रखें इसके बाद 1 से 30 तक या इससे ऊपर तक की गिनती आप गिन लेते हैं तो आपके अंदर ऑक्सीजन की मात्रा नॉर्मल है और वही यदि आप एक लंबी सांस लेने के बाद केवल एक से 10 तक की गिनती ही गिन पा रहे हैं, तो आपके शरीर में ऑक्सीजन का लेवल मात्र 95% तक ही हो सकता है और अगर आप केवल 1 से 7 तक ही गिनती काउंट कर पा रहे हैं, तो आपका अवश्य जन लेवल 90% से भी कम हो सकता है, अर्थात आपके अंदर ऑक्सीजन की मात्रा कम हो सकती है।

  2. ब्रीथ होल्ड के जरिए :-

    इस प्रक्रिया में यदि कोई मरीज एक लंबी सांस लेकर लगभग 25 से 30 सेकंड तक या फिर उससे अधिक समय तक अपने सांस को रोक सकता है, तो उस व्यक्ति के शरीर के अंदर ऑक्सीजन का लेवल लगभग 95% या उससे अधिक होता है और व्यक्ति नॉर्मल रहता है।

    यदि कोई मरीज सांस लेने के बाद ज्यादा से ज्यादा 10 से 15 सेकंड तक के लिए ही अपनी सांस को रोक कर रख सकता है, तो उस व्यक्ति का ऑक्सीजन लेवल 90% तक होता है और उस व्यक्ति के शरीर में ऑक्सीजन का लेवल थोड़ा कम होता है।

    यदि वही मरीज एक लंबी सांस लेने के बाद ज्यादा से ज्यादा 10 सेकंड तक ही अपने सांस को रोक पा रहा है, तो उस व्यक्ति के अंदर ऑक्सीजन का लेवल 90% से भी कम होता है और ऐसी स्थिति में उस व्यक्ति को डॉक्टर से परामर्श लेनी चाहिए और अपना उपचार शुरू करवाना चाहिए।
  • लक्षण के जरिए :-

    शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो जाने के कारण हमारे शरीर पर इसके कुछ लक्षण दिखाई देने लगते हैं। इन लक्षण के माध्यम से भी हम जान सकते हैं, कि हमारे शरीर में ऑक्सीजन का लेवल कितना है?। आइए जानते हैं, ऑक्सीजन की कमी से होने वाले लक्षण कौन-कौन से हैं?।
  • हमारे शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो जाने पर सबसे पहले हमारे होठ नीले पढ़ने रखते हैं।
  • इसके बाद धीरे-धीरे हमारे शरीर के अन्य अंग जैसे हमारी आंखों की पलक, हमारे हाथ और पैर की उंगलियों के ऊपरी हिस्से इत्यादि नीले होने लगते हैं।
  • ऑक्सीजन की कमी से हमें सांस लेने में कठिनाई होने लगती है।
  • यदि कभी हमारे शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है, तो हम एक लम्बी सांस में कोई एक सेंटेंस पूरा नहीं कर पाते और इस बीच हमारी सांस फूलने लगती है।

संवैधानिक चेतावनी :-

यदि आपको कभी ऐसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करनी चाहिए, क्योंकि यह तरीके हमें हमारे शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा होने का सटीक जानकारी नहीं बता सकते हैं। ऐसे में कभी यदि आपको कुछ इसी प्रकार के समस्याएं देखने को मिलती हैं, तो आपको तुरंत डॉक्टर से मिलकर अपना उपचार शुरू करवा देना चाहिए।

निष्कर्ष :-

आज के इस लेख में हम सभी ने यह जानकारी प्राप्त की, कि बिना ऑक्सीमीटर के हम अपने शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को कैसे चेक करें?। हम आपसे यह उम्मीद भी करते हैं, कि आपके लिए हमारे द्वारा लिखा गया यह लेख काफी कारगर सिद्ध हुआ होगा। हमारे द्वारा लिखी गई इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें, ताकि अन्य लोगों को भी यह पता चल सके और वे ऐसी स्थिति में डॉक्टर से परामर्श ले सकें।

FAQ :-

Q. क्या बिना ऑक्सीमीटर के हम शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को सही परिणाम के साथ देख सकते हैं?
Ans.
बिल्कुल नहीं।

Q. क्या घर पर बिना डॉक्टर के परामर्श से और बिना ऑक्सीमीटर के ऑक्सीजन की मात्रा सुरक्षित है?
Ans.
यह सुरक्षित है।

Q. बाजार में ऑक्सीमीटर की कीमत क्या है?
Ans.
₹3000 से ऊपर के दामों में यह बाजार में उपलब्ध है।

Q. क्या बिना ऑक्सीमीटर के हम शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा माप सकते हैं?
Ans.
हां।


Covid-19 vaccination registration process kya hai. 18 वर्ष या 45 वर्ष की उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन का ऑनलाइन प्रोसेस क्या है।

Share on:
About Abhishek Maurya

मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं?, आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। धन्यवाद Gmail ID - [email protected]

Leave a Comment